Breaking News

बाल पर मचा ऐसा बवाल कि रंगमंच कलाकार को भेज दिया जेल, ‘आवारागर्दी’ पर पुलिस ने ‘सीधा’ करने की दी धमकी

पाकिस्तान के अबुजार मधु को अपने बालों के चलते जेल भेज दिया गया है। पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में पैदा हुए 28 साल के मधु एक रंगमंच कलाकार हैं। मधु बच्चों को पढ़ाते हैं और अपने बालों के चलते अक्सर पुलिसवालों के निशाने पर रहते हैं। 5 जून की दोपहर को लाहौर में मधु को पकड़ कर जेल भेज दिया गया था। मधु उस समय एक रिक्शा का इंतजार कर रहे थे। पुलिस अधिकारियों का कहना था कि वे समझ नहीं पा रहे थे कि आखिर मधु ने ऐसा हुलिया क्यों बनाया हुआ है। मधु ने कहा कि मैंने चूड़ियों जैसे कुछ कड़े पहने हुए थे और अपने बालों को पीछे से बांधा हुआ था। मधु ने जेल जाने के बाद बताया कि मुझे मेरे बालों के चलते सड़कों पर रोका जाता है। पुलिस बार-बार मेरी तलाशी लेती है। मुझे हर रोज पुलिसवाले कम से कम तीन बार रोक लेते हैं। मधु ने बताया कि मुझे एक क्रिमिनल के तौर पर देखा जाता है। उन्होंने बताया कि यह पहली बार है जब गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। मधु ने बताया कि पुलिस ने मुझसे पूछा था कि क्या तुमने अपना हुलिया देखा है? आखिर तुम ऐसे लुक और बालों के साथ बच्चों को कैसे पढ़ा लेते हो? मैंने उन्हें कहा था कि मैं एक आर्टिस्ट हूं और मैंने उन्हें अपने सारे दस्तावेज दिखाए थे। उन्होंने मुझे कहा कि वे मुझे ‘सीधा’ करना चाहते हैं।

 

ज्ञात हो कि पाकिस्तान में ‘आवारागर्दी’ को अपराध के तौर पर देखा जाता है। मधु ने कहा कि आवारागर्दी से जुड़े कानून ब्रिटिश राज के जमाने से पाकिस्तान में चले आ रहे हैं। ब्रिटिश हिन्दुस्तानी संस्कृति, कला पर नियंत्रण रखना चाहता थे। मधु ने कहा कि लंबे बालों के लिए जेल भेज देना पाकिस्तान में वर्गवादी समाज और असमानता को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि मैंने कितने लोग देखे हैं जिनके पास प्राइवेट कारें हैं और वे अपने बालों को अपनी मर्जी से कैसे भी रख लेते हैं लेकिन चूंकि मैं पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल करता हूं तो मुझे अक्सर सड़कों पर रोका जाता है। मधु के मामले में कराची के कल्चरल कमेंटेटर अहमर नकवी ने कहा कि 90 के दशक में पीएम नवाज शरीफ ने टीवी पर रॉक और पॉप म्यूजिक को प्रतिबंधित कर दिया था।

 

उन्होेंने बताया कि मर्दों के लंबे बालों की आलोचना करते हुए कहा था कि पाक कल्चर को जींस जैकेट कल्चर से खतरा है। सुरक्षा कारणों से भी पाकिस्तान में लंबे बालों वाले लोगों को संदेह की निगाह से देखा जात है। कई तालिबानी पहले लंबे बाल रखा करते हैं। वर्तमान में तालिबानियों का खतरा काफी कम हुआ है। जेल भेजे जाने के बाद मधु ने कहा कि वे अपने बालों को नहीं कटवाएंगे। विरोध के तौर पर अपने बालों को लंबे करना ही पसंद करेंगे। उन्होंने कहा कि अगर मैं भविष्य में अपने बालों को कटवाता भी हूं तो वो इसलिए क्योंकि मैं हेयरस्टायल में बदलाव चाहता हूं। उन्होंने कहा कि मैं कभी अपने बाल डर के चलते नहीं कटवाऊंगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *