Breaking News

शाहीन बाग में जिन्ना वाली आजादी के नारे पर उठे सवाल, तो भड़के पैनलिस्ट ने अर्नव से कह डाली ऐसी बात

शाहीन बाग (Shaheen bagh) में सीएए (CAA) के विरोध में हुए प्रदर्शन का मामला अभी भी सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) में चल रहा है. बीते दिन ही इस पर कोर्ट ने सुनवाई करते हुए अपने फैसले में कहा था कि, सार्वजनिक जगहों पर अनिश्चित समय तक प्रदर्शन नहीं किया जा सकता है. दरअसल ये फैसला कोर्ट ने CAA के खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग में सड़क यातायात को बाधित करने के मामले में सुनाया है. सुप्रीम कोर्ट के इसी फैसले को लेकर रिपब्लिक टीवी पर एक डिबेट रखी गई थी. जिसमें अर्णब गोस्वामी ने सावल पूछते हुए कहा कि, शाहीन बाग में जिन्ना वाली आजादी की मांग क्यों हुई, इस पर पैनलिस्ट ने भड़कते हुए जवाब दिया और कहा कि तुम्हें बड़ी तकलीफ है.

आखिर क्या है पूरा मामला
दरअसल डिबेट में अर्णब गोस्वामी (Arnab Goswami) ने सवाल करते हुए बतौर पैनलिस्ट मौजूद एडवोकेट असगर (Advocate Asghar) से पूछा कि, आपने कहा था कि जिन्ना वाली आजादी, लेकर रहेंगे, क्या ये सेक्यूलर नहीं है? इस सवाल के जवाब में एडवोकेट असगर ने कहा कि, हर शख्स को अपने नजरिए से भी देखना चाहिए. बड़ी तकलीफ है तुम्हें. इस दौरान डिबेट में मौलाना आजाद नेशनल उर्दू यूनिवर्सिटी के चांसलर फिरोज अहमद बख्त भी मौजूद थे.

इसके बाद एडवोकेट असगर की बात पर तंज कसते हुए फिरोज अहमद बख्त ने कहा कि, शाहीन बाग में जिन्ना वाली आजादी के नारे इस वजह से लग रहे थे क्योंकि, ये सारे टुकड़े-टुकड़े गैंग से संबंध रखते हैं. साथ ही देश को धर्म के नाम पर बांटने की कोशिश कर रहे हैं. फिरोज बख्त यहीं नहीं रूके आगे उन्होंने ये भी कहा कि, ये सेक्यूलर मूवमेंट नहीं बल्कि देश विरोधी आंदोलन था. बता दें कि अक्सर अर्णब गोस्वामी के चैनल पर हुई डिबेट और उनके सवाल सोशल मीडिया पर चर्चाओं में बने रहते हैं. अक्सर अर्नब के शो का वीडियो इंटरनेट पर धमाल मचाता ही रहता है. इसी बीच अर्नब का आया ये नया वीडियो भी काफी तेजी से वायरल हो रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *