Breaking News

मौत बनकर गिरी बिजली, 24 घंटे में 9 लोगों की मौत

मध्यप्रदेश में सोमवार को आसमान से बिजली (madhya pradesh lightning) मौत बन कर लोगों पर गिरी. सोमवार को देवास और आगर जिलों में बिजली गिरने की वजह से कुल 9 लोगों की मौत हो गई. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने हादसे पर दुख जताते हुए पीड़ित परिवारों की सहायता के निर्देश दिये हैं. सबसे ज्यादा नुकसान देवास जिले मे हुआ. देवास जिले में आकाशीय बिजली गिरने से अलग-अलग स्थानों पर 6 लोगों की मौत हो गई जबकि दो घायल हुए हैं. ज़िले के मोहाई जागीर गांव में आकाशीय बिजली गिरने से खेत पर काम कर रहे एक पुरुष और दो बच्चियों की मौत हुई. इनमें एक पिता और उसकी बेटी शामिल हैं. वहीं बामनी में आकाशीय बिजली गिरने से खेत पर काम कर रही रेखा नाम की महिला की मौत हुई. इसके अलावा खातेगांव थाना क्षेत्र में आकाशीय बिजली गिरने से रेशम बाई नाम की महिला की मौत हुई जबकि टोंकखुर्द क्षेत्र के जंगल में आकाशीय बिजली गिरने से 19 साल की युवती की मौत हुई है.

आगर मालवा जिले के नलखेड़ा क्षेत्र में आकाशीय बिजली ने जमकर कहर बरसाया. तीन अलग अलग स्थानों पर बिजली गिरने से 2 महिलाओं सहित एक 7 साल के बच्चे की मौत हो गई. सोमवार को जिले के मनासा, पिलवास और लसुलड़िया में देर शाम हुई तेज बारिश के साथ आकाशीय बिजली ने 3 लोगों की जान ले ली. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने देवास और आगर मालवा जिलों में आकाशीय बिजली गिरने से नागरिकों की मृत्यु पर दु:ख जताया. मुख्यमंत्री कार्यालय ने बयान जारी करते हुए बताया कि देवास में सोमवार को तीन अलग-अलग स्थानों पर बिजली गिरी जिसके चलते ग्राम डेरिया गुड़िया, ग्राम खल और ग्राम बामनी में नागरिकों की असामयिक मृत्यु हुई है. इसके अलावा आगर मालवा जिले में नलखेड़ा के पास ग्राम मनासा, पिलवास और लसुलड़िया केलवा में बिजली गिरने की घटनाएं हुई हैं. मुख्यमंत्री चौहान ने देवास एवं आगर मालवा के जिला प्रशासन को प्रभावित परिवारों की सहायता के लिए निर्देश दिए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *