Breaking News

जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट को योगी सरकार ने दी बड़ी सौगात, अब बनेगा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल और ट्रामा सेंटर

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट को एक बड़ी सौगात मिल रही है। उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा अमित मोहन प्रसाद ने सेक्टर-22ई में सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल और ट्रामा सेंटर बनाने के लिए स्थलीय निरीक्षण किया है। 6 एकड़ जमीन पर बनने वाले हॉस्पिटल की तैयारियां तेज कर दी गई हैं। इस मल्टी स्टोरी हाॅस्पिटल से लोगों को काफी राहत मिलेगी। जेवर में सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल और ट्रॉमा सेंटर के लिए निरीक्षण करने आए अपर मुख्य सचिव चिकित्सा के साथ स्थानीय भाजपा विधायक धीरेंद्र सिंह सहित यमुना अथॉरिटी और स्वास्थ्य विभाग के आलाधिकारी मौजूद रहे। ज्ञात हो कि जेवर में इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनाया जा रहा है लेकिन इस एरिया में अभी तक कोई भी मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल और ट्रामा सेंटर नहीं था। लंबे समय से इस एरिया में विश्वस्तरीय सुविधा वाले हॉस्पिटल की मांग की जा रही है। यमुना अथॉरिटी की तरफ से हॉस्पिटल के लिए 6 एकड़ जमीन दी गई है। जमीन का मिल जाना एक बड़ा काम माना जा रहा है।

स्थानीय विधायक के पत्र के बाद तेज हुई कवायद

मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल और ट्रामा सेंटर की मांग को लेकर जेवर से भाजपा विधायक धीरेंद्र सिंह ने योगी सरकार को पत्र लिखा था। विधायक धीरेंन्द्र सिंह इस हास्पिटल के लिए सत्ता और प्रशासन से सम्पर्क किया था। विधायक ने बताया कि सेक्टर-22ई में विश्वस्तरीय सुवधिा वाला हॉस्पिटल बनाने की तैयारियां तेज कर दी गई हैं। यमुना अथॉरिटी की तरफ से हॉस्पिटल के लिए 6 एकड़ जमीन दी गई है। किसान संगठनों ने भी सरकार के मल्टी स्टोरी हास्पिटल के कदम का स्वागत किया है।

ग्रेटर नोएडा, दनकौर और जेवर को मिलेगा फायदा

भाजपा विधायक ठाकुर धीरेंद्र सिंह ने बताया कि हॉस्पिटल तैयार होने के बाद ग्रेटर नोएडा, दनकौर और जेवर के आर्थिक रुप से कमजोर लोगों को इसका फायदा मिलेगा। साथ ही यमुना एक्सप्रेस-वे के किनारे होने की वजह से भी यह हॉस्पिटल काफी अहम होगा। यहां ट्रामा सेंटर न होने की वजह से सड़क हादसे के शिकार होने वाले लोगों को जान से भी हाथ धोना पड़ता है। अब किसी भी विपरित परिस्थिति में हास्पिटल से राहत मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *