Breaking News

गुरुग्राम की सड़क पर गौ-तस्करों ने मचाया तांडव, चलती गाड़ी से गायों को फेंका, फायरिंग भी की

गुरुग्राम (Gurugram) में मंगलवार देर रात एक बार फिर से सड़कों (roads) पर गौ-तस्करों (cow smuggler) का ताडंव देखने को मिला। गौ-तस्कर बेसहारा घूम रही गायों को उठाने के लिए पिकअप में सवार होकर गुरुग्राम पहुंचे। इसकी सूचना मिलने पर गौ-रक्षकों ने अपनी तीन गाड़ियों से तस्करों का पीछा करना शुरू किया, तस्करों ने चलती गाड़ी से पहले कंचे और पत्थर बरसाए। उसके बाद कई राउंड फायरिंग (firing) करने के साथ-साथ गाय को भी फेंकना शुरू कर दिया।

20 किलोमीटर तक पीछा करने के बाद तस्करों की गाड़ी को पलवल के पास से पकड़ा गया। इसमें तीन तस्करों को मौके से पकड़ लिया गया, जबकि तीन से चार तस्कर फरार हो गए। पुलिस ने गौ-रक्षक की शिकायत पर पलवल में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पकड़े गए आरोपियों की पहचान सलीम, महमूद और साद के रूप में हुई।

बजरंग दल से जुडे राजबीर बोकन ने बताया कि मंगलवार देर रात को सूचना मिली थी कि तस्कर गायों को उठा रहे है। ऐसे में वह मोनू मानेसर के साथ पहुंचे और गौ-रक्षकों का पीछा करना शुरू कर दिया। गौ-रक्षक हीरो होंडा चौक से होते हुए भोंडसी पहुंचे। वहां से तस्कर अपनी पिकअप को रिठौज मोड से गढ़ी बाजिदपुर रोड की तरफ चले। लगभग 20 किलोमीटर तक पीछा करने के बाद गौ-रक्षकों ने उनकी गाड़ी के टायरों को फोड़ दिया।

इसके बाद भी वह रिम पर काफी दूर तक लेकर गए और उसके बाद तस्करों को पकड़ लिया। मौके से पिकअप समेत तीन तस्करों को पकड़ लिया गया और तीन से चार तस्कर फरार हो गए। राजबीर बोकन ने बताया कि तस्करों द्वारा किए गए पथराव के कारण दो रक्षक घायल हो गए। गौ-रक्षक रणवीर और परमजीत के सिर में चोंटे आई। जिनको अस्पताल में भर्ती करवाया गया और प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी मिल गई।

उन्होंने बताया कि तस्करों की पिकअप गाड़ी से एक गाय, कंचे, पत्थर और पिस्टल के दो कारतूस मिले। तस्करों ने उनकी तीन गाड़ियों को काफी नुकसान पहुंचाया था। बजरंग दल से जुड़े मोनू मानेसर ने बताया कि पलवल के मिंडकौला थाने में हत्या के प्रयास में मामला दर्ज करवाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *