Breaking News

किसान सम्मान निधि योजना से हटाए गए 2 करोड़ किसानों के नाम, कहीं लिस्ट में आप तो नहीं..

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने कार्यकाल में किसानों के लिए कई तरह की योजनाएं शुरू की है। जिसमे सबसे खास किसान सम्मान निधि योजना’ है। इस योजना के तहत देश के करोड़ों किसानों को सालाना 6 हजार रुपये देने का ऐलान किया गया। जो आज किस्तों के रूप में उन्हें दिए भी जा रहे है लेकिन अब इस योजना में एक बहुत बड़ा बदलाव किया जा रहा है। जिसका नुकसान करोड़ों किसानों को उठाना पड़ेगा। केंद्र सरकार ने किसान सम्मान निधि योजना से लगभग 2 करोड़ किसानों को हटा दिया है। यानि कि अब इन 2 करोड़ किसानों को योजना के पैसा नहीं मिलेगा। सरकार का ये कदम नकली किसानो के खिलाफ उठाया गया है।

2 करोड़ किसानों का हटाया नाम
दरअसल, सरकार ने 1 दिसंबर से किसानों के खाते में सातवीं किस्त के 2 हजार रुपये ट्रांसफर कर रही है लेकिन सरकार ने इसी महीने से उन किसानों पर नकेल कसनी शुरू कर दी है। जो फर्जी है और सरकार के पैसा ऐंठ रहे है। इस समय पीएम किसान पोर्टल में योजना का लाभ लेने वाले किसानों की संख्या 9 करोड़ 97 लाख के आसपास है लेकिन कुछ समय पहले ही किसानों की संख्या लगभग 11 करोड़ की थी। इस आंकड़े से साफ है कि केद्र सरकार ने 2 करोड़ किसानों को लिस्ट से हटा दिया और अब इन किसानों को सरकार द्वारा पैसा नहीं दिया जाएगा। दावा किया जा रहा है कि ये किसान फर्जी है। जो सरकार से लाभ ले रहे थे।

इन राज्यों के निकले फर्जी किसान
वहीं, सरकार अभी भी उन किसानों का पता लगाने में जुटी है। जो पूरी तरह फर्जी है और इस योजना के लाभार्थी नहीं हो सकते। अब तक सरकार के सामने महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और उत्तर प्रदेश के फर्जी किसान सबसे ज्यादा सामने आए है। माना जा रहा है कि रिकवरी के डर से कई राज्यों में फ्रजी एंट्री करने वाले किसानों ने अपने नाम हटा लिए हैं जबकि लाखों किसानों को उनके गलत डेटा के कारण पोर्टल से हटा दिया गया है।

तेजी से गिर रही है लाभार्थी किसानों की संख्या
हालांकि, ये भी सच है कि जैसे-जैसे सरकार किसानों तक किस्त पहुंचा रही है। वैसे किसानों की संख्या कम हो रही है। सरकार ने दिनों किसानों के खाते में सातवीं किस्त पहुंचा रही है। पीएम किसान पोर्टल के मुताबिक पहली किस्त 10.52 करोड़ किसानों को मिली थी। वहीं दूसरी किस्त के दौरान किसानों की संख्या कम होकर 9.97 करोड़ हो गई थी। इसी तरह तीसरी किस्त में 9.05 करोड़, चौथी किस्त में 7.83 करोड़ और पांचवीं किस्त 6.58 करोड़ किसानों तक पहुंची है। वहीं, छठी किस्त पाने वाले किसानों की संख्या सिर्फ 3.84 करोड़ रह गई है। इसी तरह सातवीं किस्त पाने वाले किसानों की संख्या और भी कम हो गई है।

किसानों से पैसा वसूलने की तैयारी
बता दें कि महारष्ट्र के 2.30 लाख ऐसे किसान किसान है जो टेक्स भरते है और इन किसानों को सम्मान निधि योजना का लाभार्थी पाया गया है। आंकड़ों के मुताबिक, इन किसानों को अब तक कुल 208.5 करोड़ रुपये दे दिए गए है। ऐसे में सरकार इन सभी किसानों से पैसे वसूलने की तैयारी में लगी हुई है। वहीं, तमिलनाडु में भी ऐसे 5.95 लाख किसान लाभार्थी है। जो जांच में फर्जी पाए गए है। इन किसानों से भी किसान पैसे वसूलने की तैयारी में जूट गई है। इसके अलावा भी ऐसे कई राज्यों के किसान है। जो फर्जीवाड़ा कर सरकार से पैसे ले रहे थे।

ऐसे चेक करें अपना नाम
वेबसाइट pmkisan.gov.in पर जाएं।
होम पेज पर मेन्यू बार देखें और यहां ‘फार्मर कार्नर’ पर जाएं।
यहां ‘लाभार्थी सूची’ के लिंक पर क्लिक करें।
इसके बाद अपना राज्य, जिला, उप-जिला, ब्लॉक और गांव विवरण दर्ज करें।
इतना भरने के बाद Get Report पर क्लिक करें और पाएं पूरी लिस्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *