Breaking News

अजीबोगरीब परेशानी से जूझ रही है ये महिला, पब्लिक प्लेस में सिर झुकाकर चलने को मजबूर, जानिए वजह

इंग्लैंड में रहने वाली एक महिला बेहद अजीबोगरीब परेशानी से जूझ रही हैं. इस दुर्लभ ब्रेन डिसऑर्डर के चलते वे अक्सर पब्लिक में सिर झुका कर चलने को मजबूर हैं क्योंकि जब भी वे किसी आकर्षक शख्स को देखती हैं तो उनके पैर लड़खड़ाने लगते हैं और उनके नीचे गिरने का डर रहता है. 32 साल की क्रिस्टी ब्राउन इंग्लैंड के चेशायर शहर में रहती हैं. उन्हें केटाप्लेक्सी की समस्या है. ये एक ऐसा डिसऑर्डर है जो गुस्सा, खुशी और डर जैसे स्ट्रॉन्ग इमोशन के चलते ट्रिगर हो सकता है जिसके चलते अचानक मांसपेशियों में पेरालेसिस जैसी स्थिति पैदा हो जाती है और क्रिस्टी लड़खड़ाने पर मजबूर हो जाती हैं.

इस कंडीशन को सबसे ज्यादा नारकोलेप्सी के साथ संबंध के तौर पर देखा जाता है. क्रिस्टी ने अपनी इस समस्या के बारे में बात करते हुए कहा कि ये बेहद शर्मिंदा करने वाली परेशानी है. मैं जब भी किसी ऐसे शख्स को देखती हूं जो गुड-लुकिंग होता है तो मेरे पैर लड़खड़ाने लगते हैं और अगर मैं अपने आपको ना संभालूं तो मुझे नीचे गिरने का डर रहता है. इसलिए मैं अपनी सुरक्षा के लिए पब्लिक में नीचे देख कर ही चलती हूं. क्रिस्टी का कहना है कि उन्हें आमतौर पर पांच केटाप्लेक्सी के अटैक आते हैं और अगर उनका दिन बुरा हो तो दिन में उन्हें ऐसे 50 अटैक आ सकते हैं. इसके चलते कई बार उनका घर से बाहर निकलना भी मुश्किल हो जाता है. क्रिस्टी का कहना है कि ये अटैक 2 मिनट से कम समय में खत्म हो जाता है

क्रिस्टी ने कहा- मुझे गुस्सा आने पर या तेज हंसी आने पर भी गिरने का डर रहता है क्योंकि ये भी काफी स्ट्रॉन्ग इमोशन हैं. अक्सर ऐसा होता है जब मैं किसी से बहस कर रही होती हूं तो मैं बेहोश हो जाती हूं और इसी के साथ बहस भी खत्म हो जाती है. उन्होंने कहा कि जब भी मुझे अटैक पड़ता है तो मेरा पैरों पर कंट्रोल खत्म हो जाता है. क्रिस्टी ने बताया कि वे नारकोलेप्सी जीन के साथ पैदा हुई थीं और 9 साल की उम्र में सिर में लगी चोट के बाद उनकी ये समस्या काफी बढ़ गई थी. उन्होंने कहा कि इस समस्या के चलते उन्हें जॉब हासिल करने में भी दिक्कतें पेश आती रही हैं क्योंकि उन्हें लोगों को ये समझाने में काफी समय लगता है कि वे किसी भी समय लड़खड़ाकर गिर सकती हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *