Breaking News

जालसाज कोटेदार के विरुद्ध लाइसेंस निरस्त करने तथा मुकदमा पंजीकृत कराए जाने की लगाई गई गुहार

भारतीय किसान यूनियन धर्मेंद्र के प्रदेश महासचिव डी एन एस त्यागी के द्वारा लिखित प्रार्थना पत्र जिला अधिकारी बाराबंकी को सौंपा गया जिसमें उल्लेख किया गया सतगुरु शरण पांडे उचित दर विक्रेता बबुरी गांव विकासखंड बनी कोडर जिला बाराबंकी के द्वारा फर्जी जालसाजी से राशन कोटा का लाइसेंस सन 1990 में बनवाया गया था.

जिसमें सतगुरु शरण के पिता रघुनंदन प्रसाद हैं लेकिन लाइसेंस में पिता के स्थान पर राम आसरे के नाम से बनवाया गया था. जो आज तक चालू है लेकिन सतगुरु शरण के राजस्व अभिलेख खतौनी मतदाता सूची बैंकों के बचत खाता तथा समस्त अपने कार्य में शपथ पत्र आदि में स्वयं के द्वारा सतगुरु शरण पुत्र रघुनंदन ही लिखा जाता है। जिसकी शिकायत सन 2016 में तहसील रामसनेहीघाट जनपद बाराबंकी में  कोटा निरस्त करने की मांग की गई थी.

जिसमें तत्कालीन नायब तहसीलदार महोदय के द्वारा जांच की गई जिस पर उक्त जालसाज ने मतदाता सूची तथा परिवार रजिस्टर में रघुनंदन उर्फ राम आसरे मिलीभगत करके दर्ज करवा कर प्रस्तुत करके शिकायत का निस्तारण कराया गया.

उसके बाद कई बार उप जिलाधिकारी रामसनेहीघाट से निष्पक्ष जांच कराने की मांग की गई लेकिन आज तक किसी प्रकार की कार्यवाही नहीं हो सकी उसी जांच के संबंध में आज प्रदेश महासचिव द्वारा समस्त अभिलेखों के साथ जिला अधिकारी बाराबंकी को लिखित शिकायत ही प्रार्थना पत्र सौंपा गया जिसमें तत्काल फर्जी लाइसेंस को निरस्त करने तथा मुकदमा पंजीकृत कराए जाने की मांग की गई जिस पर जिलाधिकारी महोदय द्वारा तत्काल खंड विकास अधिकारी बनी कोडर तथा तहसीलदार रामसनेहीघाट को उचित जांच एवं कार्यवाही कराए जाने हेतु निर्देशित किया गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *