Breaking News

लाॅकडाउन में गयी नौकरी तो पति बन गया जिगोलो, अब पत्नी ने मांगा तलाक

बेंगलुरू। कोरोना वायरस ने जहां समाज को मौत के दरवाजे पर खड़ा कर दिया है, वहीं परिवार के रिश्तों में विचलन ला दिया है। वैवाहिक रिश्तों में भी दरार आने लगी है। कोरोना की वजह से लगे लॉकडाउन के बाद बीपीओ की नौकरी गंवाने वाले एक शख्स की पत्नी ने उससे तलाक मांगा है। 24 वर्षीय महिला ने कोर्ट में कहा है कि उसका पति नौकरी जाने के बाद कमर्शियल सेक्स वर्कर बन गया। कमर्शियल सेक्स वर्कर बनने की पत्नी से छिपाए रखा है। बेंगलुरु पुलिस की कोशिश और महिला हेल्पलाइन ने दोनों के मतभेद सुलझाने के लिए कई दौर की काउंसलिंग की है। पति के झूठ, कमर्शियल सेक्स बनने के बाद यह दंपती अब साथ नहीं रहना चाहता। दोनों ने आपसी सहमति से अलग होने का फैसला ले लिया है। दोनों की मुलाकात साल 2017 में बीपीओ ऑफिस के कैंटीन में हुई थी। दो साल बाद 2019 में दोनों ने शादी करने का फैसला लिया। दोनों ने दंपति सुब्रमण्यननगर में किराए पर एक घर भी लिया। इस बीच कोरोना की वजह से लॉकडाउन लगा और 27 वर्षीय पति की नौकरी चली गई। पति ने नई नौकरी तलाशनी शुरू की।

इस दौरान महिला को अपने पति पर संदेह होने लगा। महिला को लगने लगा कि उसका पति उससे कुछ छिपा रहा है। वह घंटों अपने लैपटॉप और मोबाइल में लगातार रहता था। पति इस पर नजर रखने लगी। वह बार-बार घर से बाहर जा रहा रहा था जिसके बारे में पत्नी को बताता भी नहीं था। शक होने के बाद महिला ने अपने भाई की मदद से पति का लैपटॉप खोला और उसमें उसे एक सीक्रेट फोल्डर मिला। फोल्डर में महिला के पति की कई सारी नग्न-अर्धनग्न तस्वीरें थीं।

 

महिला को यह भी पता लगा कि उसका पति अब एक एस्कॉर्ट है जो अपने क्लाइंट्स से प्रति घंटे के हिसाब से 3 हजार से 5 हजार के बीच पैसे चार्ज करता था। काउंसलर ने बताया कि पत्नी के सामने पति ने कमर्शियल सेक्स वर्कर बनने की बात मानी भी है। पति ने बताया कि उसे उसके एक दोस्त ने यह काम बताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *