Breaking News

राम मंदिर निर्माण: गुफा में रहने वाले बाबा ने दिया एक करोड़ का दान

अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण के लिए इस वक्त देश भर से चंदा जुटाने का अभियान जारी है. ऋषिकेश में नीलकंठ महादेव मंदिर को जाने वाले रास्ते पर एक गुफा में रहने वाले 83 वर्षीय संत स्वामी शंकर दास ने राम मंदिर के लिए एक करोड़ रुपए दान दिए तो जिसने ये सुना वो हैरान रह गया. ये बाबा पिछले 60 वर्ष से इसी गुफा में रह रहे हैं. क्या नेता और क्या आम लोग, सभी का बाबा से मिलने के लिए तांता लगा हुआ है. यमकेश्वर से बीजेपी विधायक ऋतु खंडूरी भी पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ स्वामी शंकर दास से मिलने पहुंची और उन्हें एक करोड़ का दान देने के लिए धन्यवाद किया. स्वामी शंकर दास को आसपास के लोग फक्कड़ बाबा के नाम से बुलाते हैं. बाबा ने कहा कि वे दान गुप्त तौर पर करना चाहते थे लेकिन दान की राशि जाहिर करने पर इसलिए सहमत हुए कि और लोगों को भी मंदिर निर्माण के लिए सहयोग राशि देने की प्रेरणा मिले.


स्वामी शंकर दास का दावा है कि उन्होंने इतनी बड़ी राशि बीते कई वर्षों में गुफा में उनके पास आने वाले श्रद्धालुओं से एकत्र की. मीडिया से बात करते हुए स्वामी शंकर दास ने दावा किया कि उन्होंने नब्बे के दशक के में तत्कालीन प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव को पत्र लिखा था कि वे राम मंदिर पर तीन दिन में समझौता करवा सकते हैं. स्वामी के मुताबिक इसके बाद उनसे मिलने सीबीआई की टीम भी आई थी. स्वामी शंकर दास का दावा है कि उन्होंने इतनी बड़ी राशि बीते कई वर्षों में गुफा में उनके पास आने वाले श्रद्धालुओं से एकत्र की. मीडिया से बात करते हुए स्वामी शंकर दास ने दावा किया कि उन्होंने नब्बे के दशक के में तत्कालीन प्रधानमंत्री पीवी नर्सिम्हा राव को पत्र लिखा था कि वे राम मंदिर पर तीन दिन में समझौता करवा सकते हैं. स्वामी के मुताबिक इसके बाद उनसे मिलने सीबीआई की टीम भी आई थी. ऋषिकेश के आरएसएस प्रमुख सुदामा सिंघल सूचना मिलते ही तत्काल एसबीआई की मेन ब्रांच में पहुंचे. सिंघल ने बताया कि “क्योंकि स्वामी शंकर दास सीधे दान नहीं कर सकते थे इसलिए चेक हमें दिया गया. हमने उन्हें रसीद सौंपी. इसके बाद बैंक मैनेजर ने चेक राम मंदिर निर्माण से जुड़े ट्रस्ट के अकाउंट में जमा कर दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *