Breaking News

ममता बनर्जी ने पीएम मोदी से गंगासागर मेला को राष्ट्रीय मेला घोषित करने की मांग

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने मंगलवार को गंगासागर मेले (Gangasagar Mela) की तैयारियों की समीक्षा कीं और गंगासागर में कपिलमुनि मंदिर में पूजा अर्चना की. ममता बनर्जी तीन दिवसीय गंगासागर दौरा पर पहुंची हैं. इस अवसर पर ममता बनर्जी ने पीएम नरेंद्र मोदी से गंगासागर मेला को राष्ट्रीय मेला घोषित करने की मांग करते हुए कहा कि इसके पहले भी वह इस बारे में पीएम मोदी को पत्र लिख चुकी हूं, लेकिन अभी तक कोई जवाब नहीं मिला है. बता दें कि मकर संक्रांति के अवसर पर 12 जनवरी से गंगासागर मेला का आयोजन होता है. 14 जनवरी को मकर संक्रांति के दिन गंगासागर में पुण्य स्नान की परंपरा है.

मुख्यमंत्री ने गंगासागर मेला 2022 (Gangasagar Mela 2022) को इको-फ्रेंडली (Eco Friendly) और प्लास्टिक-मुक्त (Plastic Free) बनाने पर जोर दिया. मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी (Coronavirus Pandemic) को लेकर सरकार की तरफ से जारी किये गये सभी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए गंगासागर मेले का आयोजन किया जायेगा. गंगासागर में 600 बेडों की सुविधा वाला अस्पताल खोला गया है.

गंगासागर मेला को राष्ट्रीय मेला घोषित किया जा

ममता बनर्जी ने कहा कि यहां 20 लाख लोग हर साल आते हैं. कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए मेला में आये. मेला को लेकर पूरा इंतजाम किया गया है. आम्फान और यास जैसे प्राकृतकि आपदा में बहुत कुछ नष्ट हो गया था, लेकिन हम लोगों ने विकास का सब काम कर दिया है. तूफान के कारण जो नष्ट हो गये थे. उनकी मरम्मत कर दी गई है, ताकि जब लोग आए, तो कोई असुविधा नहीं हो. पीएम मोदी को गंगासागर मेला घोषित करने के लिए कई बार पत्र दिये हैं, लेकिन जवाब नहीं मिला है. कुंभ यदि एक है, तो इसे राष्ट्रीय मेला-दो घोषित किया जाए. पहले बोला जाता था कि सारे तीर्थ बार-बार गंगासागर एक बार, लेकिन अब लोग बार-बार गंगासागर आते हैं. गंगासागर मेले में कुंभ से भी अच्छा इंतजाम होता है. नदी पार कर गंगासागर आना होता है.

महंत ज्ञानदास ने ममता बनर्जी की प्रशंसा की

संत ज्ञानदास ने प्रदेश की सीएम ममता बनर्जी की तारीफ की है. उन्होंने कहा कि  बंगाल का कल्याण किया है. ऐसे ही देश का कल्याण होगा.  हमारी प्रार्थना है दीदी को और आगे बढ़ाये. दीदी से प्रार्थना किये थे कि गंगासागर में मंदिर बना दें. उन्होंने मंदिर बना दिया. आज तक 35 साल कम्युनिस्ट था, मंदिर नहीं बना था. यह पब्लिक की देन है कि ममता बनर्जी फिर से सीएम बनीं है. यहां बहुत ही बढ़िया काम हुआ है. महंत ज्ञानदास ने कहा कि गंगासागर मेला को राष्ट्रीय मेला घोषित किया जाना चाहिए, लेकिन जब तक बीजेपी रहेगी, तब-तक राष्ट्रीय मेला घोषित नहीं होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *