Breaking News

पुलवामा पर छलका PM मोदी का दर्द, कहा- भद्दी राजनीति करने वालों को नहीं भूलेगा राष्ट्र

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दो दिवसीय गुजरात दौरे का आज दूसरा दिन है। पीएम मोदी आज स्टैच्यू ऑफ यूनिटी पहुंचे और सरदार पटेल को पुष्पांजलि अर्पित की। इसके बाद पीएम मोदी राष्ट्रीय एकता दिवस परेड में शामिल हुए। बताते चलें कि आज वे यहां कई परियोजनाओं की भी शुरुआत करेंगे। बता दें कि वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के प्रकोप के बाद पीएम की यह पहली गुजरात यात्रा है।

सबसे पहले पीएम मोदी ने सरदार पटेल की जयंती पर शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा, राष्ट्रीय एकता और अखंडता के अग्रदूत लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल को उनकी जन्म-जयंती पर विनम्र श्रद्धांजलि।

सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती आज, पीएम मोदी ने स्टैच्यू ऑफ यूनिटी पर दी श्रद्धांजलि

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोरोना संकट में देश ने जिस एकता के साथ इसका मुकाबला किया, ऐसी ही एकता की कल्पना सरदार वल्लभभाई पटेल ने की थी। पीएम ने कहा कि कश्मीर में धारा 370 को हटे हुए एक साल हो गए। 31 अक्टूबर को कश्मीर से धारा 370 हटा था। पीएम ने कहा कि सोमनाथ के पुनर्निर्माण से सरदार पटेल ने भारत के सांस्कृतिक गौरव को लौटाने का जो यज्ञ शुरू किया था, उसका विस्तार देश ने अयोध्या में भी देखा है। आज देश राममंदिर पर सुप्रीमकोर्ट के फैसले का साक्षी बना है, और भव्य राममंदिर को बनते भी देख रहा है।

सरदार पटेल की जयंती पर पीएम द्वारा पुष्पांजलि अर्पित करने के मौके पर केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों और गुजरात पुलिस द्वारा आयोजित एकता दिवस परेड का आयोजन किया गया है। वहीं राष्ट्रीय एकता दिवस परेड के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज हम सरदार साहब की इस गगनचुंबी प्रतिमा के सान्निध्य में भारत की प्रगति का प्रण दोहरा रहे हैं। पीएम ने कहा कि केवड़िया में कुछ ही दिनों में विकास के कई कार्य हुए हैं। उन्होंने कहा कि जल्द ही ये स्थान दुनिया के पर्यटन मानचित्र पर छाने वाला है। वहीं मोदी आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये सिविल सर्विस प्रोबेशनर्स के साथ बातचीत करेंगे। वहीं पीएम केवडिया और अहमदाबाद को जोड़ने वाले सीप्लेन सेवा का उद्घाटन करेंगे। सरदार सरोवर बांध के पास एक झील में तैरता हुआ पानी का एयरोड्रम बनाया गया है। मोदी झील से सीप्लेन पर सवार हो कर साबरमती रिवरफ्रंट पर पहुंचेंगे।

पीएम ने सरदार वल्लभ भाई पटेल को श्रद्धांजलि दी.

प्रधानमंत्री ने पुलवामा हमले का जिक्र करते हुए कहा कि जब हमारे देश के जवान शहीद हुए थे उस वक्त भी कुछ लोग राजनीति में लगे हुए थे। ऐसे लोगों को देश भूल नहीं सकता है। पीएम ने कहा कि उस वक्त वे सारे आरोपों को झेलते रहे, भद्दी भद्दी बातें सुनते रहे। मेरे दिल पर गहरा घाव था। लेकिन पिछले दिनों पड़ोसी देश से जिस तरह से खबरें आई है, जो उन्होंने स्वीकार किया है, इससे इन दलों का चेहरा उजागर हो गया है। पीएम ने कहा, “जिस प्रकार वहां की संसद में सत्य स्वीकारा गया है, उसने इन लोगों के असली चेहरों को देश के सामने ला दिया है। अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिए, ये लोग किस हद तक जा सकते हैं, पुलवामा हमले के बाद की गई राजनीति, इसका बड़ा उदाहरण है।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज सरदार सरोवर से साबरमती रिवर फ्रंट तक सी-प्लेन सेवा का भी शुभारंभ होने जा रहा है। सरदार साहब के दर्शन के लिए, स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को देखने के लिए देशवासियों को अब सी-प्लेन सर्विस का भी विकल्प मिलेगा। ये सारे प्रयास इस क्षेत्र में पर्यटन को भी बहुत ज्यादा बढ़ाने वाले हैं।

पीएम ने कहा कि ये भी अद्भुत संयोग है कि आज ही वाल्मीकि जयंती भी है। आज हम भारत की जिस सांस्कृतिक एकता का दर्शन करते हैं,  जिस भारत को अनुभव करते हैं, उसे और जीवंत और ऊर्जावान बनाने का काम सदियों पहले आदिकवि महर्षि वाल्मीकि ने ही किया था। उन्होंने कहा कि महर्षि वाल्मीकि का श्लोक जननी जन्मभूमिश्च स्वर्गादपि गरीयसी की प्रेरणा हमें आज तक मातृभूमि की महता की सीख देती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *