Breaking News

पाकिस्तान में 36 दिन में हुआ इतने हिंदू लड़कियों का अपहरण, जबरन धर्म परिवर्तन के बाद हो रहा का निकाह

पाकिस्तान (Pakistan) के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) चाहे कितनी ही बार ‘नया पाकिस्तान’ बनाने की बात करे लें लेकिन ये देश अल्पसंख्यकों के लिए कितना खतरनाक है, ये आए दिन होने वाले घटनाओं से पता चलता है (Pakistan Hindu Girls Kidnaping). यहां हिंदू और ईसाई लड़कियों का अपहरण एक आम बात हो गई है. इन लड़कियों को अगवा करने के बाद इनका जबरन धर्म परिवर्तन कराया जाता है और फिर निकाह भी करा दिया जाता है. ज्यादातर मामलों में पीड़ित लड़कियां नाबालिग होती हैं. इनका निकाह अधेड़ उम्र के पुरुषों से कराया जाता है.

यहां अकेले सिंध प्रांत में 36 दिनों के भीतर ऐसे चार मामले सामने आए हैं. इन हिंदू लड़कियों का अपहरण कर जबरन धर्म परिवर्तन कराया गया और अधिकतर का निकाह तक करवा दिया गया. इनमें से तीन लड़कियां नाबालिग हैं. प्रधानमंत्री इमरान खान इस तरह के मामलों पर चुप्पी साधे रहते हैं और पुलिस भी कोई कार्रवाई नहीं करती (Pakistan Hindu Girls Converted). ताजा मामला सिंध के हैदराबाद जिले का है, जहां महज 13 साल की हिंदू लड़की को अगवा कर कट्टरपंथियों ने उसका जबरन निकाह करा दिया है. इस मामले में पाकिस्तान नेशनल असेंबली के हिंदू सदस्य रमेश कुमार वांकवानी ने पुलिस शिकायत कराए जाने की पुष्टि की है.

पुलिस नहीं करती कोई सुनवाई

बच्ची के पिता एक मजदूर हैं और टेक्सटाइल मिल में काम करते हैं. उन्होंने कहा कि पुलिस कोई सुनवाई नहीं कर रही है. उन्होंने कई बार शिकायत दर्ज कराने की कोशिश की थी लेकिन जब वांकवानी ने मामले में हस्तक्षेप किया, तब जाकर एफआईआर दर्ज की गई है (Hindu Girl Abducted in Pakistan News). द राइज न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, इससे पहले एक नाबालिग लड़की को दाहरकी से अगवा किया गया था, दूसरी नाबालिग का अपहरण तंगवानी से हुआ और तीसरी लड़की का अपहरण 13 फरवरी को हुआ था और उसकी अधेड़ उम्र के आदमी से शादी करा दी गई.

मौलवी-अपहरकर्ता को मिलता है पैसा

पीड़ित लड़कियों में से एक के रिश्तेदार ने कहा कि लड़कियों को अगवा कराने पर अपहरणकर्ता और निकाह कराने वाले मौलवी को खूब पैसे मिलते हैं. यहां कोरोना वायरस लॉकडाउन में इस तरह के मामलों में काफी इजाफा देखा गया है. देश के मानवाधिकार कार्यकर्ताओं ने कहा है कि अल्पसंख्यकों में सुरक्षा को लेकर डर बढ़ रहा है (Hindu Girl Conversion in Pakistan). इमरान खान की सरकार ना तो पुलिस के इस रवैये पर कुछ कह रही है और ना ही कोई सख्त कानून ला रही है. जिससे कट्टरपंथियों के हौंसले और भी ज्यादा बुलंद हो रहे हैं.

नाबालिग की 44 साल के आदमी से शादी

अक्टूबर महीने के आखिर में ही कराची में एक 13 साल की ईसाई लड़की का 44 साल के आदमी ने अपहरण कर लिया था. फिर उसी आदमी ने लड़की का जबरन धर्म परिवर्तन भी कराया और उससे निकाह कर लिया. हालांकि ये आदमी फिलहाल बलात्कार और बाल विवाह के मामले में जेल में कैद है (Pakistan Hindu Converted in Pakistan). सिंध प्रांत में ऐसी घटनाएं सबसे अधिक होती हैं. इसपर बीते साल एक रिपोर्ट भी आई थी. जिसमें कहा गया था कि यहां बड़े स्तर पर हिंदुओं का धर्म परिवर्तन कराया जा रहा है (Hindu Girl Condition in Pakistan). सिंध के बादिन में ही 102 हिंदुओं को जबरन इस्लाम कबूल करवाया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *