Breaking News

कोरोन से निपटने के लिए अमित शाह का मास्टर प्लान, आज बुलाई सर्वदलियों की बैठक, हो सकता है बड़ा फैसला

कोरोना(Coronavirus) के खौफ के साए के बीच आज राजधानी दिल्ली (Delhi) जीने को मजबूर हो चुकी है। उस फेहरिस्त में तीसरे पायदान पर अपनी जगह मुकम्मल करने वाली दिल्ली की स्थिति बेहद खौफनाक होती जा रहा है, जिसमें सबसे संजीदा सूबों को शामिल किया गया है। ऐसे में सरकार के समक्ष सबसे बड़ी चुनौती बढ़ते कोरोना संक्रमण पर अंकुश लगाने की है। फिलहाल इस कड़ी में बैठकों और वार्ताओं का सिलसिला जारी है। अब इसी बीच खबर है कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit shah) ने आज दिल्ली में कोरोना के चलते बिगड़े हालात को लेकर सर्वदलीय बैठक बुलाई है। इस बैठक में बीजेपी, आम आदमी पार्टी, कांग्रेस, बसपा सहित अन्य दलों के शिरकत करने की संभावना है।

बताते चले कि ऐसे वक्त में जब कोरोना के मामले लगातार राजधानी दिल्ली में बढ़ते जा रहे हैं। आंकड़ों के मुताबिक अब 2224 नए मरीज सामने आए हैं। पिछले 24 घंटे में 56 लोगों की मौत हो चुकी है और दिल्ली में कुल संक्रमितों की संख्या बढकर 41,182 पर पहुंच गई है। ऐसी स्थिति में कोरोना के बढ़ते मामले दिल्ली सरकार के लिए चिंता का सबब बन चुके हैं। ऐसी स्थिति में गृह मंत्री द्वारा बुलाई गई बैठक पर सभी निगाहें टिकी हुई है। मालूम हो कि इससे पहले गत रविवार को वे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) के साथ इस गंभीर मसले को लेकर वार्ता कर चुके हैं। अब उन्होंने सर्वदलीय बैठक बुलाई है।

यह बैठक सुबह 11 बजे होगी। जिसमें तमाम सियासी दलों के नेताओं के शिरकत करने की संभावना बनी हुई है। इससे पहले गृह मंत्री कोरोना के बढ़ते मामलों को दिल्ली के सभी मेयरों से भी वार्ता कर चुके हैं। जिसमें केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सहित अन्य आलाधिकारी शामिल हुए थे। इस बैठक में उन्होंने इस बीमारी के खिलाफ जंग के लिए पूरा प्लान भी तैयार किया था।

वहीं दिल्ली में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच लगातार बेड और वेंटिलेटर के अभाव की संभावना व्यक्त की जा रही है। बताया जा रहा है कि दिल्ली में बेड की समस्या न हो  इसके लिए राजधानी में 8 हजार नए बेड उपलब्ध कराए जाएंगे। ताकि इस बीमारी से जंग को धार दी जा सके। दिल्ली में कंटेनमेंट जोन का निर्धारण सुचारू रूप से हो सके, इसके लिए व्यापक स्वास्थ्य सर्वे कराया जाएगा। बहरहाल, कोरोना के बढ़तेग संक्रमण के बीच अमित शाह की इस बैठक पर सभी की निगाहें टिकी हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *