Breaking News

काशी विश्वनाथ दर्शन के लिए पर्यटकों से नहीं आने की अपील, या फिर कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य

उत्तर प्रदेश के वाराणसी में नाइट कर्फ्यू के बाद भी कोरोना बेकाबू है। कोरोना से बिगड़ते हालात के बीच वाराणसी के कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने देश विदेश से आने वाले पर्यटकों को शहर में ना आने की सलाह दी है। इसके अलावा कमिश्नर ने श्री काशी विश्वनाथ और अन्नपूर्णा मंदिर में दर्शन के लिए कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट को साथ लाने को अनिवार्य कर दिया है। कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने बताया कि 14 अप्रैल से काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन करने आने वाले भक्तों को 3 दिनों के भीतर का कोरोना नेगेटिव आरटी पीसीआर रिपोर्ट लानी होगी। उसके बाद ही कोविड नियमों के पालन करते हुए उन्हें मंदिर में दर्शन कि अनुमति मिलेगी। श्री अन्नपूर्णा मंदिर में दर्शन के लिए भी ये व्यवस्था अगले आदेश तक लागू रहेगी।

सुबह 6 से 9 बजे तक ही प्रवेश

कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए श्री काशी विश्वनाथ मंदिर प्रशासन ने पहले ही मंदिर में भक्तों के प्रवेश के समय को कम निर्धारित कर दिया था। नए नियम के मुताबिक, सुबह 6 से रात्रि 9 बजे तक ही भक्तों को बाबा दरबार मे एंट्री मिलेगी। मंदिर में भक्त सिर्फ बाबा विश्वनाथ के झांकी दर्शन करेंगे। गर्भगृह में भक्तों के प्रवेश पर पूरी तरह पाबंदी लगाई गई है।

वाराणसी आने वाले को भी लाना होगा नेगेटिव रिपोर्ट

वाराणसी के जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया कि दूसरे राज्यों से शहर आकर रहने वाले यात्रियों को भी अब कोविड की नेगेटिव रिपोर्ट देनी होगी। इससे लिए भी जल्द ही गाइडलाइंस जारी की जाएगी।

11 बजे तक 828 मरीजों में कोरोना की पुष्टि

वाराणसी में लगातार कोरोना का ग्राफ बढ़ता जा रहा है। बुधवार की सुबह 11 बजे तक 828 नए कोरोना के मरीज सामने आए हैं। नए मरीजों में कोरोना की पुष्टि के बाद जिले में एक्टिव मरीजों की संख्या 9607 हो गई है। जिले में अब तक 405 लोगों ने इस खतरनाक वायरस के कारण अपनी जान गवां चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *