Breaking News

सहारनपुर : नारी सुरक्षा और स्वावलम्बन के लिए प्रशासन पूरी तरहसे मुस्तैद : मण्डलायुक्त एवी राजमौलि

रिर्पोट :- गौरव सिंघल, वरिष्ठ संवाददाता,
दैनिक संवाद, सहारनपुर मंडल।
 
सहारनपुर (दैनिक संवाद न्यूज ब्यूरो)। मण्डलायुक्त ए0व0राजमौलि ने कहा कि नारी सुरक्षा और स्वावलम्बन के लिए प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद है। उन्होंने कहा कि महिलाओं के प्रति होने वाले अपराधों के विरूद्ध त्वरित कार्यवाही करने के लिए सभी पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए गए है। उन्होंने कहा कि थानों में स्थापित महिला हैल्प डेस्क में पीड़ित महिला से मानवीय आधार पर शिकायतों के निस्तारण करने के भी निर्देश दिए गए है। उन्होंने कहा कि केन्द्र और प्रदेश सरकार ने महिलाओं के उत्थान के लिए अनेकों योजनाएं चलाई है। जिसका लाभ महिलाओं को मिल रहा है। उन्होंने कहा कि पहली बार पिता की सम्पत्ति में बेटी को शामिल करने के लिए वरासत अभियान के अंतर्गत मण्डल की तीन हजार से अधिक महिलाओं के नाम खसरा खतौनी में दर्ज हुए है। उन्होंने कहा कि महिलाओं की सहायता के लिए मण्डल के सभी जनपदों में शीघ्र ही एक हैल्पलाईन नम्बर जारी किया जायेंगा।
जहां महिलाएं सरकारी योजनाओं का लाभ पाने के लिए अपनी शिकायतें दर्ज करा सकेंगी। ए0वी0राजमौलि आज मिशन शक्ति अभियान के अंतर्गत मण्डल की सशक्त महिलाओं से पुलिस उप महानिरीक्षक के साथ वर्चुअल रू-ब-रू होते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी ने चम्पारण आंदोलन के दौरान महिला शक्ति को पहचानते हुए कस्तूरबा गांधी को साथ लेकर चम्पारण में महिला को आंदोलन के लिए जागृत करने का काम किया था। उन्होंने कहा कि घर या बाहर कहीं भी हो परिवार व बच्चों का स्वावलम्बन महिलाओं से ही होता है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा महिलाओं के उत्थान के लिए स्वयं सहायता समूह के माध्यम से उनके जीवन स्तर को ऊपर उठाये जाने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मुजफ्फरनगर जनपद में स्वयं सहायत समूह के माध्यम से महिला समूह गुड़ का उत्पादन कर अच्छी आय अर्जित कर रहा है। इसी प्रकार ग्रामीण व गरीब परिवार की मेधावी बेटियों को निःशुल्क कोचिंग के लिए अभ्युदय योजना शुरू की गयी है। जहां ऐसे परिवार की बेटियां जो संसाधनों की कमी के चलते अपने सपनों को पंख नहीं लगा पाती है। वो इस योजना का लाभ लेकर आगे बढ़ सकती है। उन्होंने कहा कि गौवंश पशु के पोषण पर महिलाओं को सरकार द्वारा प्रति गौवंश 30 रूपये की सहायता प्रदान की जा रही है।
मण्डलायुक्त एवी राजमौलि ने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा के लिए थाना स्तर पर हैल्पलाईन सेवाओं को शुरू किया गया है। जहां महिलाएं अपने प्रति होने वाले अपराधों के बारे में जानकारी देकर कार्यवाही करा सकती है। उन्होंने कहा कि इन हैल्प लाईन का संचालन में महिला कर्मियों को ही लगाया गया है। साथ ही शिकायत के निस्तारण के उपरांत अधिकारियों को फीडबैक लेने के भी निर्देश दिए गए है। उन्होंने कहा कि महिलाओं के प्रति शिकायतों की जांच के लिए जांच दल में एक महिला अधिकारी को भी नामित करने के निर्देश अधिकारियों को दिए गए है। ए0वी0राजमौलि ने कहा कि मेरा मानना है कि बिना बेटी के बाप बनना अधूरा है। हमारे प्राचीन ग्रंथों में भी महिलाओं को देवी का स्थान दिया गया है। हमें इस बात को ध्यान में रखते हुए महिलाओं ओर बेटियों को समुचित सम्मान दिया जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि मण्डल में महिलाओं के प्रति जेंडर रेशों में कमी है जो चिंता का विषय है। उन्होंने कहा कि लिंग परीक्षण करने और करवाने वालों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही करने के लिए अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए गए है।
उन्होंने कहा कि किसी को भी लिंग निर्धारण की जांच कराये जाने की अनुमति नहीं है। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि ऐसे अवैध केन्द्रों की सघनता से जांच कर ठोस कार्यवाही की जाए। इस अवसर पर पुलिस उपमहानिरीक्षक उपेन्द्र कुमार अग्रवाल ने कहा कि मिशन शक्ति अभियान के अंतर्गत लोगों को जागरूक करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि महिला सुरक्षा के लिए पुलिस पूरी तरह से संवेदनशील है। उन्होंने कहा कि निर्भिक होकर डाॅयल 112, वूमेन पावर लाईन 1090 या 118 पर शिकायत दर्ज कराई जा सकती है। उन्होंने कहा कि डाॅयल 112 पर शिकायत दर्ज कराने के सात से आठ मिनट के भीतर ही पुलिस रिस्पोंस करेंगी। उन्होंने कहा कि अपराधों के प्रति महिलाओं को आगे आना होगा और थानों में शिकायत दर्ज करानी होगी। उन्होने कहा कि थानों में महिला हैल्प लाईन में सभी महिला कर्मचारियों की तैनाती की गई है तथा यह भी निर्देश दिए गए है कि शिकायतकर्ता को बार-बार थाने नहीं बुलाया जाए। ऐसे में शिकायत न करना अपराधियों के हौंसलों को बढ़ाना है। उन्होंने कहा कि महिलाओं को अपराधों के सम्बन्ध में शिकायत जरूर करनी चाहिए। सशक्त महिलाओं में सहारनपुर जनपद की डा0 नैना मिगलानी, डाॅ0 कुदसिया अंजुम, अंडर 19 की कप्तान रही सुश्री भावना तोमर, शामली जनपद की समाजसेवी डा0 रितु जैन तथा मुजफ्फरनगर की समाजसेवी श्रीमती बीना शर्मा से रू-ब-रू होकर उनके सवालों के जबाब दिये। मण्डलायुक्त एवी राजमौलि और पुलिस उपमहानिरीक्षक उपेंद्र अग्रवाल ने महिलाओं को आश्वस्त किया कि वे महिलाओं की समस्याओं के प्रति पूरी तरह से सजग है। महिलाएं अपनी समस्याओं के समाधान के लिए उन्हें अवगत करा सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *