Breaking News

BJP विधायक ने की टिप्पणी, वैभव की दुनिया में नाचती हैं मायावती, थाने पहुंचे बसपा कार्यकर्ता

विधानसभा चुनाव के करीब आने के साथ ही सियासी बयानबाजी तेज हो गयी है। अपने विवादित बयानों के कारण आए दिन चर्चा में रहने वाले बलिया की बैरिया विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के विधायक सुरेन्द्र सिंह एक बार फिर चचा में हैं। उन्हांेने सियासी बयान के साथ ही व्यक्तिगत टिप्पणी कर दी है। उन्होंने बसपा सुप्रीमो व पूर्व मुख्यमंत्री मायावती पर अमर्यादित टिप्पणी की है। उनकी टिप्पणी पर बहुजन समाज पार्टी के कार्यकर्ताओं ने उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के लिए बलिया नगर कोतवाली में तहरीर दी है। कार्यकताओं ने उन्हें चेतावनी दी है कि यदि बसपा विधायक पर कार्रवाई नहीं की गयी तो बसपा आंदोलन करेगी। अपनी टिप्पणी के बारे में भाजपा विधायक सुरेन्द्र सिंह ने कहा कि मायावती के खिलाफ कोई असंसदीय या अमर्यादित टिप्पणी नहीं की है। अपने वायरल बयान को दोहराते हुए कहा कि हमने यही बोला है कि दलित हितों की बात करने वाली मायावती वैभव की दुनिया में नाचती हैं। उनका दलितों से कोई लेना-देना नहीं है। सुरेन्द्र सिंह ने एक बार फिर वही टिप्पणी दोहरा दी है।

 

विधायक ने मायावती पर लोकनायक जयप्रकाश नारायण की जयंती पर उनकी जन्मस्थली जेपी नगर में आयोजित श्रद्धांजलि सभा में विवादित बयान दिया है। बताया जा रहा है। इसमें बैरिया विधायक सुरेन्द्र सिंह ने अपने संबोधन के दौरान बसपा प्रमुख मायावती पर टिप्पणी की। मायावती के खिलाफ अशोभनीय बयान का वीडियो सामने आने के बाद बसपा नेता आक्रोशित हो गये हैं। आनन-फानन में मंगलवार की रात करीब 11 बजे जोनल कोआर्डिनेटर डा. मदन राम के नेतृत्व में बसपा के कार्यकर्ता नगर कोतवाली पहंुचे। वहां विधायक पर मुकदमा व कार्रवाई के लिए कोतवाल बाल मुकुंद को तहरीर दी। डा. मदन राम के अनुसार कोतवाली पुलिस ने बुधवार की शाम तक कार्रवाई का भरोसा दिया है। यदि ऐसा नहीं हुआ तो हम आगे की रणनीति बनाएंगे। कोतवाल ने को बताया कि तहरीर मिली है। जांच की जा रही है।

भाजपा पर लगाये आरोप

जोनल कोआर्डिनेटर डा. मदन राम ने कहा कि उल-जुलूल बयानों के जरिए सत्ता हासिल करने की फिराक में जुटी भाजपा और उसके नेताओं की मंशा को हम कामयाब नहीं होने देंगे। उन्होंने कहा कि चाल, चरित्र, चेहरा व नारी सम्मान की बात करने वाली भाजपा के शीर्ष नेतृत्व को ऐसे विधायकों व नेताओं को तत्काल बर्खास्त करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *