Breaking News

श्रद्धालुओं की उमड़ रही भीड़ को देखते हुए सात दिनों के लिए बंद रहेगा चारधाम यात्रा का ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन

उत्तराखंड (Uttarakhand) सरकार ने चारधाम यात्रा के लिए श्रद्धालुओं की उमड़ रही भीड़ को देखते हुए यात्रा का ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन अगले सात दिनों के लिए बंद कर दिया है. राज्य के पर्यटन विभाग ने एक सप्ताह के लिए चारधाम यात्रा का रजिस्ट्रेशन पूरी तरह से रोक दिया है और जो यात्री ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन (Offline Registration) कराएंगे, उन्हें एक हफ्ते के दौरान बुक नहीं किया जाएगा. जानकारी के मुताबिक अब तक यात्री पूरे सीजन के किसी भी दिन के लिए ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन करा रहे थे और उसी दिन यात्रा कर रहे थे. ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन कर यात्रियों के चारधामों (Chardham Yatra) में पहुंचने की शिकायतों के बाद यह फैसला लिया गया है.

राज्य के पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने कहा कि कुछ लोग ऑफलाइन माध्यम से अगले महीनों के लिए स्लॉट बुक कर रहे हैं, लेकिन तीर्थयात्रा पर उसी दिन रवाना हो रहे हैं. रास्ते में पुलिस रजिस्ट्रेशन चेक के दौरान ऐसे वाहनों को रोक रही है और इसके कारण श्रद्धालुओं को अनावश्यक परेशानी उठानी पड़ रही है और धामों में भीड़ भी बढ़ रही है. लिहाजा इससे बचने के लिए यह तय किया गया है कि अब सात दिन के लिए सिर्फ ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन बंद रहेंगे और उसके बाद इसे शुरू किया जाएगा.

ट्रैवल एजेंट तोड़ रहे हैं

जानकारी के मुताबिक हरिद्वार, ऋषिकेश के रजिस्ट्रेशन सेंटरों पर ट्रैवल एजेंट जून, जुलाई, अगस्त महीने की बुकिंग करा रहे हैं और इस पर्ची के साथ लोग यात्रा पर जा रहे हैं. जिसके कारण चार धाम में यात्रा करने वालों की संख्या बता नहीं चल रहा है और इसके कारण अव्यवस्था बना रही है.

20 केंद्रों पर हो रहा था ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन

उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद की ओर से श्रद्धालुओं का पंजीकरण ऑनलाइन और ऑफलाइन किया जा रहा है. तीर्थयात्रियों को ऑनलाइन पंजीकरण की सुविधा यूटीडीबी की आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध कराई जा रही है. जबकि ऋषिकेश, हरिद्वार, उत्तराखंड बॉर्डर सहित यात्रा मार्ग पर कुल 18 से 20 केंद्रों में ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *