Breaking News

लॉकडाउन के तीसरे फेज में शराब की दुकानें खुलते ही लोगों की उमड़ी भीड़, सोशल डिस्टेंस की उड़ी धज्जियां

कोरोना वायरस की वजह से देश में लागू लॉकडाउन के तीसरे चरण में केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कई छूट दी हैं जिनमें शराब भी एक है। शराब की दुकानें तीनों जोन (रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन) में खुल सकेंगी। हालांकि, इस दौरान सरकार ने लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग अपनाने को कहा है। लेकिन देश में कई जगहों पर शराब की दुकानें दुकान खुलते ही पियक्कड़ों की भीड़ दुकानों में उमड़ पड़ी और यहां तक कि कोरोना वायरस के खतरे से भी लोग भी बेखबर नजर आए। हैरानी की बात तो यह है कि इन दुकानों में सुरक्षा को भी नजरअंदाज किया गया।

दिल्ली में भी सोमवार से शराब की दुकानों को खोलने की अनुमति दे दी गई है। इस दौरान केंद्र सरकार की तरफ से जारी गाइडलाइंस को ध्यान में रखा जाएगा। गृह मंत्रालय के नए दिशानिर्देशों के अनुसार, एक समय में अधिकतम पांच व्यक्तियों के साथ न्यूनतम छह फीट की सामाजिक दूरी सुनिश्चित करने के बाद शराब, पान और तंबाकू की बिक्री की अनुमति दी जा सकती है। ये दुकानें शहरी क्षेत्रों के बाजारों और मॉल में नहीं होने चाहिए।

Lockdown: शराब की दुकान खुलने से पहले ही लगी आधा किमी लंबी लाइन, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

वहीं कर्नाटक में सुबह 9  बजे से शाम 7 बजे तक शराब की दुकानें खोली जा सकती हैं। लंबे समय के बाद शराब की दुकानें खुलने को लेकर कर्नाटक के हुबली के लोग इस कदर उत्साहित हैं कि दुकानों के बाहर लंबी लाइनें नजर आ रही हैं। लोग सुबह सात बजे से ही शराब की दुकानों के बाहर खड़े हुए हैं।

वहीं उत्तराखंड में शराब ठेके खोलने से पहले सुरक्षा को लेकर आबकारी आयुक्त सुशील कुमार ने गाइडलाइन जारी कर दी है। आदेश के मुताबिक ठेके पर एक समय में पांच खरीदार उपस्थित होंगे। इनमें छह-छह फीट की दूरी जरूरी होगी। संख्या बढ़ने पर प्रत्येक पांच लोगों के बाद दस फीट का गैप बनाना जरूरी होगी। ठेकों पर शराब बेचने से पहले चालू वित्त वर्ष में घटाए गए शराब के रेट की सूची लगानी जरूरी होगी। इसके साथ ही ठेके पर पास धारक कर्मचारी ही शराब बेच पाएंगे।

छत्तीसगढ़ में शराब के लिए मारामारी
छत्तीसगढ़ में भी कुछ यही नजारा है। रायपुर में शराब की दुकानों के बाहर भी लोग सुबह से ही लाइन लगाकर खड़े हैं। शराब खरीदने आए लोग मास्क में नजर आ रहे हैं और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी कर रहे हैं। पुलिस भी मौके पर मौजूद है। शराब की दुकानों के बाहर लोहे के बैरिकेडिंग की गई है और सोशल डिस्टेंसिंग का पालने कराने के लिए निशान भी बनाए गए हैं।

लॉकडाउन-3.0: शराब की दुकानें खुलते ही ...

बता दें कि केंद्र सरकार ने शराब की दुकानों को खोलने की अनुमति इस शर्त पर दी है कि सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखा जाएगा। साथ ही यह भी कहा गया है कि हर व्यक्ति मास्क लगाकर या चेहरा ढककर ही बाहर निकलेगा। कंटेनमेंट जोन के अलावा बाकी इलाकों में शराब की दुकानें खुलेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *