Breaking News

रैगिंग ने ली टॉपर छात्र की जान, सुसाइड नोट में लिखा ‘मां-पापा सॉरी आपकी…’

रैगिंग की ढेर सारी घटनाएं सामने आती हैं जहां पर छात्र तंग आकर जान तक दे देते हैं. इसके खिलाफ कानून तक बनाया जा चुका है मगर अभी भी कुछ शरारती तत्व इससे बाज नहीं आते. ताजा मामला तेलंगाना के भैंसा शहर से आया है. यहां पर एक छात्र को रैगिंग के नाम पर इनता परेशान किया गया कि उसने सुसाइड कर ली. स्टूडेंट शहर के माइनॉरिटी गुरुकुल जूनियर कॉलेज में सेकेंड ईयर का छात्र था. इसका नाम फरहान नवाज (17) था.

बताया जा रहा है कि उसने सुसाइड नोट लिख कर आत्महत्या कर ली. सुसाइड नोट में लिखा है कि तीन छात्र उसे अक्सर परेशान करते थे. वो अब इसे बर्दाश्त नहीं कर पा रहा है. फरहान जूनियर कॉलेज में टॉपर था इसके चलते लेक्चरर, प्रिंसीपल उससे बहुत अच्छी तरह पेश आते हैं. आरोपी छात्रों को ये पसंद नहीं था. छात्रों को इससे जलन होती थी और फिर वो फरहान को टॉर्चर करते थे. सुसाइड नोट पर उसने अपने माता पिता से माफी मांगी कि उनकी सपनों को साकार नहीं कर पाया.

उसके परिजनों का कहना है कि पिछले एक सप्ताह से स्कूल के अधिकारियों के पास शिकायत करने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई थी. उनकी मांग है कि आरोपियों को सख्त सजा मिले. पुलिस ने सुसाइड नोट के बाद आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस इस मामले की छानबीन में जुट गई है और कॉलेज प्रशासन से भी बातचीत की जा रही है. बेटे की मौत के बाद घरवालों का बुरा हाल है. फरहान कॉलेज का टॉपर था और उसका सपना कुछ बड़ा करने का था. वो हमेशा पढ़ाई लिखाई में ही रहता था. इस घटना के बाद उनके मां-बाप बिल्कुल टूट गए हैं.

एक दिन पहले हैदराबाद के एक प्राइवेट कॉलेज का मामला सामने आया था. इसमें सीनियर्स द्वारा एक छात्र के साथ मारपीट का वीडियो वायरल हुआ था. पीड़ित छात्र की पहचान हिमांक बंसल के तौर पर हुई. वीडियों में साफ नजर आ रहा था कि आरोपी छात्र जूनियर स्टूडेंट को पीट-पीटकर धार्मिक नारे लगवा रहे हैं. दरअसल, छात्र पर आरोप है कि उसने एक धर्म विशेष के खिलाफ टिप्पणी की है. फिलहाल इस मामले में पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया गया है. पुलिस ने इस मामले में रैगिंग की धाराओं के तहत भी केस दर्ज किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *