Breaking News

राष्ट्रपति पद के लिए द्रौपदी मुर्मू की उम्मीदवारी से पूरे देश में उत्साह की लहरः शिवराज

राष्ट्रपति उम्मीदवार (presidential candidate) के रूप में जब से द्रौपदी मुर्मू (Draupadi Murmu) के नाम की घोषणा हुई है, पूरे देश में अद्भुत वातावरण (amazing environment) है। पूरे देश में आनंद और उत्साह की लहर है। उनका व्यक्तित्व सभी के लिए प्रेरक और अनुकरणीय है, इसीलिए उन दलों के लोग भी अपनी अंतरात्मा की आवाज पर उनके समर्थन के लिए आगे आ रहे हैं, जो हमारे विरोधी हैं। हम मुर्मू जी को राष्ट्रपति उम्मीदवार घोषित किए जाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi), राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और एनडीए नेतृत्व के आभारी हैं। अपनी ईमानदारी और संविधान के प्रति आदर से मुर्मू जी राष्ट्रपति पद की गरिमा को बढ़ाएंगी।

यह बात शुक्रवार शाम को यह बात मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने द्रौपदी मुर्मू के स्वागत में मुख्यमंत्री निवास पर आयोजित सांसदों एवं विधायकों की बैठक को संबोधित करते हुए कही। इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री गजेंद्रसिंह शेखावत मौजूद रहे।

प्रतिभाओं को खोजने का प्रधानमंत्री जी का तरीका अद्भुत
मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि पहले जो दल सत्ता में रहते थे, उनका दायरा कुछ परिवारों तक ही सीमित रहता था लेकिन प्रधानमंत्री मोदी जिस तरह से पूरे देश से प्रतिभाओं को खोजकर निकालते हैं और उन्हें उपयुक्त जिम्मेदारी देते हैं, वह तरीका अद्भुत है। द्रौपदी मुर्मू के रूप में जनजातीय समाज की एक योग्य बहन को देश के सर्वोच्च पद पर पहुंचने का जो अवसर मिला है, उसके लिए मैं प्रधानमंत्री मोदी, नड्डा जी, एनडीए नेतृत्व का आभारी हूं और प्रदेश की साढ़े आठ करोड़ जनता की ओर से द्रौपदी मुर्मू का अभिनंदन करता हूं।

उन्होंने कहा कि जिस दिन से मुर्मू जी के नाम की घोषणा हुई है, प्रदेश के जनजातीय समाज और आम जनता में खुशी की लहर दौड़ गई है। मुर्मू जी का जीवन सभी के लिए प्रेरक है। वे जिस पद पर रहीं, वहां अपनी छाप छोड़ी और मैं आशा करता हूं कि वे अपनी योग्यता, क्षमता और ईमानदारी से राष्ट्रपति पद की गरिमा को बढ़ाएंगी।

प्रलोभन नहीं, अंतरात्मा की आवाज पर दे रहे दीदी को समर्थन
चौहान ने कहा कि द्रौपदी मुर्मू के राष्ट्रपति उम्मीदवार घोषित होते ही देश में जो हलचल मची है, वह पहले कभी नहीं दिखी। हमारे विरोधी दलों के लोग भी राजनीति से ऊपर उठकर उन्हें समर्थन दे रहे हैं। यहां तक कि कांग्रेस के अंदर भी ये सवाल उठ रहे हैं कि द्रौपदी जी क्यों नहीं? पूरा देश अपनी अंतरात्मा की आवाज पर दीदी के साथ है। मप्र में भी पार्टी के अलावा कुछ अन्य विधायक द्रौपदी जी के समर्थन में खड़े हैं लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि वे किसी प्रलोभन में ऐसा कर रहे हैं। लोग अपनी अंतरात्मा की आवाज पर उन्हें समर्थन दे रहे हैं और मेरा सभी से आग्रह है कि अपनी आत्मा की आवाज पर दीदी के समर्थन में अधिक से अधिक मतदान करें।

द्रौपदी जी का चुनौतीपूर्ण सफर सभी के लिए अनुकरणीयः शेखावत
केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने बैठक में कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल जी ने पहली बार एक महान वैज्ञानिक को राष्ट्रपति बनाकर देश को गौरवान्वित किया था। पिछली बार प्रधानमंत्री मोदी ने एक दलित नेता को सर्वोच्च संवैधानिक पद के लिए चुना। इस बार कोई कल्पना भी नहीं कर सकता था कि एक आदिवासी महिला को यह अवसर मिलेगा लेकिन द्रौपदी मुर्मू को प्रत्याशी घोषित करने के निर्णय से पूरा देश आनंदित और उत्साहित है। उनका चुनौतीपूर्ण सफर हम सबके लिए और देश के जनजातीय समाज के लिए अनुकरणीय और प्रेरणादायक है। उन्होंने पार्षद, विधायक, मंत्री और राज्यपाल जैसे महत्वपूर्ण पदों पर रहते हुए आदिवासी वर्ग के उत्थान के लिए कार्य किया। उन्होंने अपनी सारी पूजीं जनजातीय वर्ग की बच्चियों के भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए समर्पित कर दी। शेखावत ने सांसदों एवं विधायकों को राष्ट्रपति चुनाव की मतदान प्रक्रिया के संबंध में भी जानकारी दी।

द्रौपदी मुर्मू का मध्यप्रदेश आना हमारे लिए गौरव का अवसरः शर्मा
पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि आज बहुत ही गौरव का दिन है। एनडीए की राष्ट्रपति प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू आज हम सबके बीच आयी हैं। मध्यप्रदेश की धरती पर रानी दुर्गावती, टंट्या मामा, शंकर शाह, रघुनाथ शाह जैसे क्रांतिकारी वीरों ने जन्म लिया है। जनजातीय वीरों की इस भूमि पर द्रौपदी मुर्मू का आना हमारे लिए गौरव और आनंद का विषय है। उन्होंने कहा कि भाजपा हमेशा से जनजातीय समाज के विकास की पक्षधर रही है। मुख्यमंत्री चौहान ने प्रदेश में जनजातीय गौरव दिवस की शुरुआत की और उसके बाद देश में इसकी शुरुआत हुई। हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास के माध्यम से राजनीति को नई दिशा दे रहे हैं। आजादी के 75 वर्षों के बाद भी किसी ने यह कल्पना नहीं की होगी कि जनजातीय समाज का कोई व्यक्ति देश के सर्वोच्च पद पर पहुंच सकता है लेकिन हमारे प्रधानमंत्री ने इसे सच कर दिखाया। प्रदेश के सभी सांसदों, विधायकों, मंत्रियों और प्रदेश की 8.5 करोड़ जनता की ओर से द्रौपदी जी का अभिनंदन करता हूं।

मध्यप्रदेश में हुए अभूतपूर्व स्वागत को भूल नहीं पाऊंगीः द्रौपदी मुर्मू
बैठक में राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू ने कहा कि मध्यप्रदेश में जिस तरह से उनका स्वागत हुआ है, जिस तरह से विभिन्न क्षेत्रों से लोग उनके स्वागत के लिए आए हैं, वह अद्भुत है और मैं उसे भूल नहीं पाऊंगी। इसके लिए आप सभी को धन्यवाद देती हूं। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति के रूप में देश के जनजातीय समाज की, महिलाओं की, पार्टी की और देश की ढेरों अपेक्षाएं हैं, जिन्हें पूरा करने का प्रयास करूंगी। हमारे प्रधानमंत्री जी ने देश को आगे बढ़ाने के लिए 25 सालों का रोडमैप बनाया है। एक राष्ट्रपति के तौर पर मैं आप सभी के साथ मिलकर संविधान के दायरे में काम करते हुए देश को आगे बढ़ाने के लिए काम करूंगी।

इस अवसर पर पार्टी के प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव, सह प्रभारी पंकजा मुंडे, राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय, प्रदेश संगठन महामंत्री हितानंद, केन्द्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल, फग्गन सिंह कुलस्ते सहित प्रदेश शासन के मंत्री, सांसद-विधायक उपस्थित थे।

स्टेट हैंगर पर हुआ भव्य स्वागत: एनडीए की राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू शुक्रवार अपरान्ह 3.33 बजे भोपाल पहुंची। यहां स्टेट हैंगर पर उनका भव्य स्वागत किया गया। मुख्यमंत्री समेत पार्टी पदाधिकारियों ने उनकी आगवानी की। जनप्रतिनिधियों ने पुष्पगुच्छ भेंटकर उनका स्वागत किया। स्टेट हैंगर पर बनाए गए मंच पर उनके पहुंचने पर आदिवासी भाई-बहनों ने पारंपरिक नृत्यों और वाद्य यंत्रों से उनका भव्य स्वागत किया।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *