Breaking News

युद्ध हुआ तो चीन चुकाएगा बड़ी कीमत, भारत के साथ खड़े होंगे ये शक्तिशाली देश

भारत और चीन के बीच संबंध लगातार खराब होते ही जा रहे हैं. एक तरफ जहां चीन से बातचीत चल रही है तो दूसरी तरफ सीमा पर चीनी सेना लगातार अतिक्रमण करने की कोशिशों में जुटी हुई है. लेकिन भारत की ताकतवर सेना भी चीन को हर कदम पर मुंहतोड़ जवाब दे रही है और किसी भी साजिश को कामयाब नहीं होने दे रही. मगर चीन बार-बार नापाक मंसूबों को अंजाम देने की कोशिश कर रहा है. लेकिन ये नहीं समझ पा रहा है कि कोरोना काल में वह जिस तरह की गतिविधियों में लगा हुआ है उससे उसी को बड़ा नुकसान हो सकता है. चीन की हरकतों को देखने के बाद भारत के साथ कई शक्तिशाली देश खड़े हो चुके हैं. तो आइए जानते हैं कि, युद्ध की स्थिति में भारत के साथ कौनसे मित्र देश खड़े होंगे.

भारत के साथ आए शक्तिशाली देश
चीन इन दिनों न सिर्फ भारत बल्कि अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस, आस्ट्रेलिया और जापान के साथ भी विवाद में फंसा हुआ है. इन देशों के साथ भी चीन के रिश्ते खराब चल रहे हैं. चीन की हरकतों को देखकर कहा जा रहा है कि, वह युद्ध जैसी स्थिति पैदा करना चाहता है लेकिन ये उसके लिए आसान नहीं होगा. क्योंकि, इसमें भी चीन को ही मुंह की खानी पड़ सकती है. मालूम हो कि, जब चीन और भारत के सैनिकों के बीच झड़प हुई थी तो गलवान घाटी में भारत के जाबांज जवानों ने 20 सैनिकों की शहादत का बदला 40 से ज्यादा चीनी सैनिकों को मार कर लिया था.

भारत युद्ध के लिए तैयार
चीनी सरकार बार-बार भारत को 1962 युद्ध की याद दिला रही है और धमकी दे रही है कि अगर इस बार जंग छिड़ती है तो भारत को काफी नुकसान उठाना पड़ सकता है. चीन अपनी गीदड़ भभकी से भारत को डराने की कोशिश कर रहा है लेकिन चीन ये नहीं जानता कि भारत 1962 वाला नहीं बल्कि 2020 वाला है. रक्षा विशेषज्ञों की मानें तो भारत हर परिस्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है और अब एक परमाणु शक्ति संपन्न राष्ट्र है. भारत के पास जाबांज सैनिक भी हैं और खतरनाक हथियार भी. इस समय भारत की सेना हर स्तर पर मजबूत है और हवा, जमीन और पानी में मार गिराने की हिम्मत रखती है. सबसे खास बात ये है कि, भारत के सैनिकों के पास दुर्गम इलाकों में भी दुश्मनों को मार गिराने का अनुभव है जो चीन के पास नहीं है.

चीन से परेशान हैं ये देश
बात अगर चीन के पड़ोसी देशों की करें तो इस समय चीन का संबंध अपने पड़ोसी देशों से भी अच्छा नहीं है. जी हां, चीन की नापाक सोच से रूस, जापान, नेपाल, भूटान, वियतनाम, ताइवान, दक्षिण कोरिया, किर्गिस्‍तान,तजाकिस्तान, मंगोलिया समेत कई देश परेशान हैं. लेकिन इन देशों की ताकत चीन के आगे काफी कम है. इसी वजह से चीन नापाक मंसूबों को अंजाम देने की कोशिशों में लगा हुआ है. मगर भारत के आगे चीन की एक भी चाल काम नहीं आएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *