Breaking News

मोदी मंत्रिमंडल में अटल कैबिनेट के अब बच गये हैं चार चेहरे, ऐसे होते रहे दिग्गज बाहर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मंत्रिमंडल में बदलाव के साथ विस्तार किया है जो कई सवाल छोड़ गया है। पीएम मोदी के इस कदम के पीछे भविष्य की रणनीति को देखा जा रहा है जो आगामी चुनावों के लिए है। इस नये कैबिनेट के साथ अटल बिहारी बाजपेयी के कैबिनेट सदस्यों को देखा जा रहा है। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में जो चेहरे मंत्रिमंडल में शामिल थे, अब उनमें से कुछ ही अब मोदी सरकार का हिस्सा हैं। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का सबसे बड़ा नाम है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे राजनाथ सिंह ने अटल बिहारी बाजपेयी सरकार में कृषि मंत्री के तौर पर पदभार संभाला था। उसके बाद जब नरेंद्र मोदी की अगुवाई में भाजपा की सरकार बनी, तब पहले कार्यकाल में राजनाथ सिंह देश के गृह मंत्री बने। दूसरे कार्यकाल में उनके पास रक्षा मंत्रालय है। कैबिनेट मंत्रियों में सिर्फ राजनाथ सिंह ही ऐसा नाम हैं, जो टीम अटल से लेकर टीम मोदी तक मौजूद हैं। वर्तमान में मुख्तार अब्बास नकवी, श्रीपद नाइक और प्रह्लाद सिंह पटेल ऐसे मंत्री हैं जो अटल सरकार और मोदी सरकार के कार्यकाल में मंत्रिमंडल का हिस्सा हैं। मुख्तार अब्बास नकवी 1998 वाले कार्यकाल में भी राज्य मंत्री बने थे। जबकि श्रीपद नाइक, प्रहलाद सिंह पटेल अटल सरकार के अंतिम कार्यकाल के सदस्य थे।

ऐसे होते गये बाहर…
रविशंकर प्रसाद, प्रकाश जावड़ेकर, संतोष गंगवार के इस्तीफे के साथ ही अटल-आडवाणी युग के बड़े नेताओं की कैबिनेट से छुट्टी हो गई। मेनका गांधी, उमा भारती, सुरेश प्रभु, राजीव प्रताप रुडी, विजय गोयल, अनंत गीते जैसे नाम अटल मंत्रिमंडल और मोदी मंत्रिमंडल दोनों का हिस्सा रह चुके हैं। पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली, सुषमा स्वराज, रामविलास पासवान, अनंत कुमार भी अटल मंत्रिमंडल में शामिल थे, बाद में मोदी कैबिनेट में भी इन्हें जगह मिली। अब अरुण जेटली, सुषमा स्वराज, रामविलास पासवान, अनंत कुमार इस दुनिया में नहीं हैं। इनके अलावा वेंकैया नायडू दोनों ही मंत्रिमंडल में रहे। मोदी सरकार ने उन्हें उपराष्ट्रपति बना दिया। सुमित्रा महाजन अटल सरकार में मंत्री रही थीं। जबकि मोदी सरकार के कार्यकाल में उन्होंने लोकसभा स्पीकर का पद संभाला। ज्ञात हो कि अटल कैबिनेट के कई ऐसे सदस्य भी रहे, जिन्हें मोदी कैबिनेट में शामिल नहीं किया गया। लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, यशवंत सिन्हा, जसवंत सिंह, अरुण शौरी जैसे बड़े नामों को नई पीढ़ी के साथ मिलाया नहीं गया। वहीं शत्रुघ्न सिन्हा, शाहनवाज हुसैन जैसे नामों को मौका नहीं मिला।

टीम मोदी में टीम अटल के मौजूदा सदस्य
1. राजनाथ सिंह (रक्षा मंत्री)
2. मुख्तार अब्बास नकवी (अल्पसंख्यक मंत्री)
3. श्रीपद नायक (राज्य मंत्री)
4. प्रह्लाद सिंह पटेल (राज्य मंत्री)

ये दोनों टीम के सदस्य रहे लेकिन अब हिस्सा नहीं हैं…

1. सुषमा स्वराज (निधन)
2. अनंत कुमार (निधन)
3. सुरेश प्रभु
4. मेनका गांधी
5. उमा भारती
6. संतोष गंगवार
7. अरुण जेटली (निधन)
8. रविशंकर प्रसाद
9. राजीव प्रताप रूडी
10. वेंकैया नायडू (उपराष्ट्रपति बने)
11. बंडारू दत्तात्रेय (राज्यपाल बने)
12. रामविलास पासवान (निधन)
13. अनंत गीते
14. विजय गोयल
15. सुमित्रा महाजन (लोकसभा स्पीकर रहीं)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *