Breaking News

मई माह में 5 ग्रह बदलने वाले हैं अपनी राशि , जानें कैसा होगा इसका असर

सामान्यत हर महीने ग्रह अपनी चाल में बदलाव लाते हैं. पर मई के महीने में ज्योतिष (Jyotish) और ग्रहों की चाल को काफी अहम माना जा रहा है. ऐसा इसलिए क्योंकि इस माह पांच ग्रह राशि परिवर्तन होने वाला है और इसके साथ ही मई के माह में ही चन्द्रग्रहण भी है. ग्रहों के राशि परिवर्तन को महत्वपूर्ण माना जाता है. ऐसा माना जाता है कि ग्रहों की चाल (Grah ki chal) का व्यक्ति के जीवन पर ही नहीं बल्कि देश-दुनिया की स्थिति पर भी असर पड़ता है. आइए जानते हैं कि मई के माह में कौन-कौन से ग्रह कब करने वाले हैं राशि परिवर्तन….

बुध ग्रह का होगा वृषभ राशि में गोचर

मई माह में पहली तारीख से बुद्धि और करियर के देवता बुध ग्रह (Mercury) मेष राशि से बाहर निकलकर वृषभ राशि में प्रवेश करने जाएंगे. बुध देव 26 मई तक वृषभ राशि में ही निवास करेंगे. वाणी और व्यापार का कारक भी बुध ग्रह को माना जाता है. वैसे तो बुध के इस राशि परिवर्तन का असर सभी राशियों पर देखने को मिलेगा लेकिन सबसे ज्यादा प्रभाव वृषभ राशि (Tauras) के जातको पर ही होगा और यह गोचर उनके लिए बहुत से मामलों में अच्छा साबित होने वाला है.

शुक्र ग्रह का होगा वृषभ राशि में गोचर

भौतिक सुखों का कारक शुक्र ग्रह (Venus) को माना जाता है. 4 मई को ये वृषभ राशि में गोचर करेंगे. वृषभ, शुक्र की अपनी राशि और वह मेष राशि से निकलकर अपनी राशि वृषभ में प्रवेश कर रहा है ,यहां ये 29 मई तक रहेगा. लग्जरी लाइफ के साथ शुक्र को प्रेम और रोमांस का कारक भी माना जाता है. ये गोचर वृषभ राशि वालों के लिए अच्छा होने वाला है.

वृषभ राशि में होगा सूर्य का भी गोचर

दो ग्रहों के गोचर के बाद वृषभ राशि में ही सूर्य देव भी आने वाले हैं. ये मेष राशि से 14 मई को सूर्य देव निकल कर वृषभ राशि में पहुंचेंगे. 15 जून 2021 तक इसी राशि में रहेंगे. इसी राशि में सूर्य, बुध और शुक्र की युति होने से तीन ग्रहों का योग बनने वाला है. सूर्य के राशि परिवर्तन से सारी राशियों पर अच्छा असर दिखाई देगा.

बुध ग्रह का होगा मिथुन राशि में गोचर

एक राशि में बुध ग्रह सिर्फ 26 दिन ही रहते हैं , तो 1 मई को राशि परिवर्तन करने के बाद बुध 26 मई को फिर से राशि परिवर्तन कर लेंगे और वृषभ राशि से निकलकर मिथुन राशि में प्रवेश कर जाएंगे. बुध ग्रह की अपनी राशि है. बुध ग्रह मिथुन राशि में 30 मई 2021 को वक्री हो जाएंगे.

शुक्र ग्रह का होगा मिथुन राशि में गोचर

जैसे बुध ग्रह भौतिक सुखों का कारक माना जाता है वैसे ही शुक्र ग्रह को भी माना जाता है. शुक्र भी 24-25 दिन में राशि परिवर्तन कर लेता है. 4 मई से लेकर 29 मई शुक्र ग्रह वृषभ राशि में रहेंगे, फिर मिथुन राशि प्रवेश करेंगे जहां वह 22 जून तक रहेंगे. इसके बाद ही अन्य राशियों पर इसका अच्छा और बुरा प्रभाव देखने को मिलेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *