Breaking News

प्लाज्मा थेरेपी का प्रयोग कोरोना संक्रमित शख्स पर पड़ा भारी, नहीं बचा पाए डॉक्टर जान

कोरोना वायरस का कहर भारत में भी तेजी से बढ़ रहा है. ऐसे में लोगों को संक्रमण से बचाने के लिए लॉकडाउन का सहारा लिया गया है. इसी के साथ ही प्लाज्मा थेरेपी के जरिए लोगों को बड़ी राहत मिली थी. लेकिन अचानक से इस थेरेपी के प्रयोग से हुई एक शख्स की मौत ने लोगों के बीच हड़कंप मचा दिया है. दरअसल ये वाक्या महाराष्ट्र का है. जहां पर एक कोरोना मरीज की हालत काफी नाजुक बनी हुई थी. ऐसे में व्यक्ति की जान बचाने के लिए डॉक्टरों ने  बुधवार को ही शख्स पर प्लाज्मा थेरेपी का प्रयोग किया था. लेकिन गुरूवार को खबर मिली इंफेक्शन के कारण मरीज की मौत हो गई है.

जानकारी के मुताबिक शख्स कोरोना से संक्रमित होने के बाद लीलावती अस्पताल में भर्ती था. अस्पताल सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी की माने तो मरीज की उम्र 53 साल की थी. हालत काफी नाजुक होने की वजह से उसे आईसीयू में रखा गया था. साथ ही डॉक्टर लगातार उसका इलाज कर रहे थे. इस दौरान डॉक्टरों की ओर से मरीज पर प्लाज्मा थेरेपी का भी इस्तेमाल किया गया, लेकिन अफसोस की मरीज को नहीं बचाया जा सका. अस्पताल के सूत्रों के मुताबिक, ‘जब मरीज को अस्पताल लाया गया, तो उसकी हालत पहले से ही बहुत ज्यादा गंभीर थी. इलाज में देरी के कारण उन्हें सांस लेने में काफी समस्या हो रही थी. यहां तक कि मरीज को एक्यूट रेस्पीरेटरी डिस्ट्रेस सिंड्रोम और निमोनिया हो गया था. डॉक्टरों ने प्लाज्मा थेरेपी के जरिए भी इलाज करने की कोशिश की, जो असफल साबित हुई.’

आपको बता दें कि इस समय महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है. बीते 24 घंटे में अब तक वहां 583 नए मामले सामने आ चुके हैं. जबकि 27 लोगों की मौत हो गई है. बात करें कुल मौतों की तो महाराष्ट्र में अब तक 459 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है. जबकि संक्रमित मरीजों की संख्या 10498 तक पहुंच गई है. आपको बता दें कि देशभर में कोरोना से हालत काफी गंभीर बनी हुई है. ऐसे में लॉकडाउन को बढ़ाने की चर्चा भी जोरों पर है. फिलहाल अभी तक इस पर कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है. लेकिन जिस तरह से कोरोना के मामलों में हर दिन इजाफा हो रहा है उसे देखते हुए लॉकडाउन बढ़ाने की संभावनाएं और भी ज्यादा बढ़ गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *