Breaking News

पाकिस्तान में महंगाई से हाहाकार, पेट्रोल के बाद आटा-चीनी, घी की कीमतों में बढ़ोतरी

पेट्रोल के बाद अब पाकिस्तान में बिगड़ती आर्थिक स्थिति के बीच चीनी, गेहूं के आटे समेत खाने-पीने की चीजों के दाम बढ़ा दिए गए हैं। द न्यूज इंटरनेशनल की रिपोर्ट के अनुसार, कैबिनेट की आर्थिक समन्वय समिति (ईसीसी) ने शुक्रवार को पाकिस्तान के यूटिलिटी स्टोर्स कॉरपोरेशन (यूएससी) में चीनी, गेहूं का आटा और घी (मक्खन) की दरों में वृद्धि को मंजूरी दे दी। यूएससी में चीनी की कीमत 68 रुपये प्रति किलो से बढ़कर 85 रुपये प्रति किलो, घी (मक्खन) 170 रुपये से 260 रुपये प्रति किलो और गेहूं का आटा 850 रुपये प्रति बैग से बढ़कर 950 रुपये प्रति बैग हो गया। यूटिलिटी स्टोर्स कॉर्पोरेशन द्वारा दी जाने वाली सब्सिडी वाली कीमतों और मौजूदा बाजार कीमतों के बीच का अंतर बढ़ गया है।

समिति ने यूएससी द्वारा सब्सिडी के प्रावधान को युक्तिसंगत बनाने के लिए तीन आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में संशोधन को मंजूरी दी। द न्यूज इंटरनेशनल ने आगे बताया कि वित्त और राजस्व मंत्री शौकत तारिन ने समिति की बैठक की अध्यक्षता की। समिति ने 200,000 टन चीनी के आयात, कपास और चावल की फसलों के लिए डीएपी उर्वरक पर सब्सिडी और पाकिस्तान के व्यापार निगम द्वारा 200,000 कपास गांठों की खरीद को भी मंजूरी दी।

पेट्रोल-डीजल के दाम भी बढ़े

इससे पहले गुरुवार को इमरान खान के नेतृत्व वाली पाकिस्तान सरकार ने पेट्रोल की कीमत में 5.40 रुपये प्रति लीटर और हाई-स्पीड डीजल (HSD) की कीमतों में 2.54 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी की है। डॉन ने बताया कि पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ सरकार ने कीमतों में वृद्धि की है। अभी तक पेट्रोल की नई कीमत 118.09 रुपये प्रति लीटर, डीजल की कीमत 116.5 रुपये प्रति लीटर होगी।

इस बीच, मिट्टी के तेल और हल्के डीजल तेल (एलडीओ) की कीमतों में क्रमश: 1.39 रुपये और 1.27 रुपये की बढ़ोतरी हुई। केरोसिन की नई कीमत 87.14 रुपये और एलडीओ की 84.67 रुपये होगी। राजनीतिक मामलों पर प्रधानमंत्री के विशेष सहायक (एसएपीएम) शाहबाज गिल ने यह घोषणा की। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने तेल एवं गैस नियामक प्राधिकरण (ओगरा) की सिफारिशों के आधार पर कीमतें नहीं बढ़ाकर जनता को ‘बड़ी राहत’ देने का फैसला किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *