Breaking News

दुनिया के टॉप-10 देश जहां मौजूद है सोने का अकूत भंडार, इस नंबर पर है भारत

सोना एक ऐसी धातु है, जिसकी कीमत में भले ही गिरावट आ जाए, मगर इसकी कशिश में कभी कोई गिरावट नहीं आती है। इसकी चमक जस की तस बनी रहती है। उधर, सर्राफा बाजारों में सोने-चांदी की कीमतों में उतार-चढ़ाव का सिलसिला जारी ही रहता है, जिसका सीधा असर देश की अर्थव्यवस्था पर भी पड़ता है। साथ ही सोना काफी प्रभावी धातु होता है, चूंकि यह अर्थव्यवस्था को काफी हद तक प्रभावित कर सकता है, लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि आखिर दुनिया में ऐसा कौन सा देश है, जहां पर सोने का सर्वाधिक भंडार मौजूद है और भारत का इस फेहरिस्त में किस पायदान पर स्थान आता है, तो चलिए अगर आपने नहीं सोचा है, तो आज हम आपको अपनी इस खास पेशकश में कुछ मुल्कों से रूबरू कराने जा रहे हैं, जहां पर सोने का सर्वाधिक भंडारण है।

इस पूरी दूनिया में अमेरिका एकमात्र ऐसा देश है, जहां पर सोने का सर्वाधिक भंडारण मौजूद है। उसके पास 8133.53 टन सोना मौजूद है। बताया जाता है कि उसकी सबल अर्थव्यवस्था का एक प्रमुख कारण यह भी है कि  उसके पास पूरी दुनिया में सर्वाधिक सोना मौजूद है, जो उसकी अर्थव्यवस्था को सबल बनाने का काम करती है। वहीं, सर्वाधिक सोने के भंडारण में दूसरे स्थान पर जर्मनी का नाम आता है। जर्मनी के पास 3,364.18 टन सोने का भंडारण मौजूद है।

उधर, तीसरे स्थान पर ईटली ने बाजी मारी हुई है। सोने के भंडारण के मामले में ईटली का तीसरे स्थान पर नाम आता है। इसके पास 2451.86 टन सोना है। इसके बाद चौथे स्थान पर फ्रांस का नाम आता है। फ्रांस के पास 2436.02 टन सोना मौजूद है। रूस का नाम सोने के भंडारण के मामले में पांचवे स्थान पर आता है। रूस में सोने का भंडारण  2299.17 टन सोना है। वहीं बात अगर चीन की करें, तो चीन का स्थान सोने के भंडारण के मामले में छठे स्थान पर आता है। यहां पर 1948 टन सोना मौजूद है। गोल्ड रिजर्व रखने की सूची में 7वें स्थान पर स्विट्जरलैंड है।

इसके पास 1,040 टन सोना मौजूद है। साथ ही आंठवे स्थान पर जापान है, जहां पर 765.22 टन सोना मौजूद है। वहीं बात अगर भारत की करें तो भारत सोने के भंडारण के मामले में 9वें स्थान पर आता है। यहां पर 653 टन सोना मौजूद है। नीदरलैंड्स गोल्ड रिजर्व रखने के मामले में 10वें स्थान पर आता है। इसके पास 612.46 टन सोने का भंडार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *