Breaking News

डेंगू बुखार से बचने के लिए डाइट में शामिल करें ये चीजें, प्लेटलेट्स बढ़ाने में मिलेगी मदद

हर साल बारिश का मौसम आते ही डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया को फैलने और मच्छरों को आतंक का डर सताने लगता है। इस मौसम में मच्छरों से होने वाला बुखार शरीर को पूरी तरह से तोड़ देता है। खासबात है कि डेंगू के मच्छर साफ पानी में पनपते हैं। इसमें बुखार, बदन दर्द आदि की समस्या होता है। इसमें ब्लड में मौजूद प्लेटलेट्स काफी तेजी से गिरने लगते हैं।

ऐसे में डेंगू के मरीज सही डाइट न लें तो बीमारी जानलेवा हो सकती है। सही मात्रा में पौष्टिक आहार लेने से इस बीमारी को ठीक कर सकते हैं। हालांकि डेंगू  का बुखार शरीर को पूरी तरह से कमजोर कर देता है। आइए जानते हैं डेंगू के बुखार में किन चीजों का सेवन करन से प्लेटलेट्स बढ़ने लगते हैं।

पपीता का जूस

सबसे पहले पपीते के पत्तों को अच्छी तरह से धो लें और इन्हें बारीक तरीके से काट लें। इसके बाद मध्यम आकार का पपीता लेकर बारीक तरीके से काट लें। अब इसमें नींबू का रस और आधा कप संतरा मिलाएं। इन सभी चीजों में थोड़ा सा पानी डालकर जूस तैयार कर लें। ध्यान दें इस जूस को हमेशा फ्रेश ही पिएं।

नारियल पानी

नारियल पानी स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इस ड्रिंक को पीने से शरीर हाइड्रेटेड रहता है। इसमें कई तरह के पोषक तत्व होते हैं। डेंगू के बुखार में कुछ खाने -पीने का मन नहीं करता है। नारियल पानी इन समस्यओं से बचाने में मदद करता है।

अनार का जूस

शरीर में ब्लड को बढ़ाने के लिए अनार के जूस का सेवन करना चाहिए। अनार में प्राकृतिक तौर पर मिनरल्स होते है जो शरीर को एनर्जी देने का काम करता है। इसमें आयरन की भरपूर मात्रा होती है जो प्लेटलेट्स को बढ़ाने में मदद करता है।

डेंगू और मलेरिया के मच्छर को इस तरह से रोके

1. कचरे की सही तरीके से फेंके। किसी भी तरह के आर्टिफिशयल पोट या बर्तन में पानी नहीं जमने दे। इनमें डेंगू- मलेरिया के मच्छर पनपने लगते हैं।

2. अपने बगीचे या छत के सभी कंटेनरों या खाली बर्तनों को ढक दें। आप इन्हें उल्टा भी रख सकते हैं। इसके अलावा पानी रखने वाले बर्तनों को भी साफ रखें।

3. घर से बाहर निकलते समय फुल स्लीवस के कपड़े पहनें ताकि मच्छरों के संपर्क में कम आए।

4. मच्छरों से बचने के लिए स्प्रे, क्रीम्स और नेट का साहरा लें। अगर आप बाहर के कमरे में सो रहे हैं तो मच्छरदानी का इस्तेमाल करें।

5. दरवाजे और खिड़कियों को शाम के समय में बंद कर दें।

6. अगर जरूरी नहीं है तो बेवजह घूमने से बचें। ऐसा करने से डेंगू की खतरे को कम कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *