Breaking News

चौतरफा हमलों के बीच दीप सिद्धू का नया वीडियो वायरल, इस सांसद पर लगाया लोगों को धोखा देने का आरोप

नए कृषि कानून के खिलाफ किसान आंदोलन कर रहे हैं. आंदोलनकारी किसानों ने गणतंत्र दिवस पर 26 जनवरी को राजधानी दिल्ली में ट्रैक्टर परेड निकाली थी. इस दौरान कुछ प्रदर्शनकारी लाल किले पहुंच गए थे और जमकर उत्पात मचाया था. प्रदर्शनकारियों ने लाल किले की प्राचीर से उस पोल पर निशान साहिब फहरा दिया था, जिस पोल पर हर साल 15 अगस्त को प्रधानमंत्री तिरंगा फहराते हैं. इस घटना को लेकर दीप सिद्धू आरोपों के घेरे में हैं.


वीडियो देखने के लिए इस लिंक को क्लिक करे

https://fb.watch/3n6e7rWRn2/

चौतरफा हमलों के बीच दीप सिद्धू का नया वीडियो सामने आया है. इस वीडियो में दीप सिद्धू ने सनी देओल पर लोगों को धोखा देने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा है कि सनी देओल ने लोगों को धोखा दिया है. पंजाबी गायक और अभिनेता दीप सिद्धू ने कहा है कि अपने जीवन के 20 दिन यह सोचकर सनी देओल को दिए कि वे मेरे भाई हैं, लेकिन कभी बीजेपी के लिए वोट नहीं मांगा और आप कह रहे हो कि मैं आरएसएस, बीजेपी का आदमी हूं. सनी देओल अब पोस्ट पर पोस्ट किए जा रहे हैं.


उन्होंने कहा कि आज मैं सनी देओल को कहना चाहता हूं कि वे गलत हैं. जब आपसे लोगों के साथ खड़े होने की उम्मीद थी, आपने छोड़ दिया. दीप सिद्धू ने दावा किया कि लाल किले पर पांच लाख लोगों की भीड़ ने कब्जा किया था. उन्होंने अपने आपको गद्दार की तरह प्रस्तुत करने को लेकर पंजाब की आलोचना भी की. दीप सिद्धू ने कहा है कि मैंने पंजाब और यहां के लोगों की आवाज उठाई. मुझे गद्दार की तरह पेश किया जा रहा है. लाल किले पर उस समय 5 लाख लोग थे, कई नेता थे, गायक थे लेकिन केवल उन्हें निशाना बनाया जा रहा है. उन्होंने लाल किले पर राष्ट्रीय ध्वज के समानांतर निशान साहिब फहराए जाने को सही सिद्ध करने की कोशिश की और कहा कि लोगों ने सरकार को लेकर अपनी नाराजगी प्रदर्शित करने के लिए निशान साहिब फहराया. लेकिन कोई स्टैंड नहीं ले रहा.

दीप सिद्धू ने कहा कि मुझे इस बात की परवाह नहीं कि सरकार क्या कह रही है. मैं दुखी इसलिए हूं कि लोग मेरे लिए क्या कह रहे हैं. उन्होंने बिहारी मजदूरों के बीच खेतों में रहने का दावा करते हुए कहा कि ये मेरा सहयोग कर रहे हैं और मैं इनके बीच हूं. यदि सरकार का आदमी होता तो किसी लग्जरी होटल में मजे ले रहा होता. मेरे पास खाने को कुछ नहीं है. गौरतलब है कि उपद्रवियों की भीड़ ने लाल किले पर पहुंचकर उत्पात मचाया था. पोल पर निशान साहिब फहराए जाने की घटना की पूरे देश में आलोचना हुई थी. सियासी दलों ने भी इस घटना की निंदा की थी. किसान संगठनों ने खुद को इससे अलग करते हुए दीप सिद्धू को जिम्मेदार ठहराया था. साथ ही यह भी आरोप लगाया था कि वे बीजेपी के आदमी हैं.

भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा था कि दीप सिद्धू बीजेपी के आदमी हैं. लाल किले की घटना के बाद दीप सिद्धू की गुरदासपुर से भारतीय जनता पार्टी के सांसद और अभिनेता सनी देओल के साथ तस्वीर वायरल होने लगी थी. सनी देओल ने ट्वीट कर कहा था कि मेरे या मेरे परिवार का दीप सिद्धू के साथ कोई संबंध नहीं है. बता दें कि दीप सिद्धू का एक अन्य वीडियो भी सामने आया था. उस वीडियो में सिद्धू ने कहा था कि उनके परिवार को परेशान न किया जाए. सिद्धू ने जांच में शामिल होने की बात कही थी और साथ ही यह भी कहा था कि उन्हें इसके लिए एक-दो दिन चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *