Breaking News

चुनावी गठबंधन को याद भी नहीं करना चाहती बसपा, सतीश चंन्द्र मिश्रा ने कही ये बात

उत्तर प्रदेश में चुनाव करीब होने के साथ राजनीतिक दलों की नजर वोट बैंक पर है। सभी दल अपने वोटों के साथ दूसरे मतों पर नजर गड़ाये हुए हैं। ब्राह्मण मतों के लिए समाजवादी पार्टी और बसपा में जोर आजमाईश लगातार हो रही हैं। एसे में प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में शामिल होने प्रयागराज पहुंचे बहुजन समाज पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्र ने कहा कि उत्तर प्रदेश के चुनाव में बहुजन समाज पार्टी किसी भी दल से गठबंधन नहीं करेगी। उन्होंने छोटे और बड़े सभी दलों से गठबंधन की बात को खारिज कर दिया। उन्होंने असदउ्दीन ओवैसी की पार्टी संग मिलकर चुनाव लड़ने की बात को सिरे से नकार दिया। सब जानते हैं कि ओवैसी यूपी में किसके कहने पर आ रहे हैं। वह प्रदेश का भला नहीं कर सकते।

सतीश चन्द्र मिश्रा ने कहा कि बहुजन समाज पार्टी का गठबंधन का अनुभव काफी खराब रहा है। समाजवादी पार्टी से समझौते की बात को पार्टी याद भी नहीं करना चाहती है। उन्होंने कहा कि बहुजन समाज पार्टी ने 2007 में अकेले चुनाव लड़कर सरकार बनाई थी। सतीश मिश्र ने एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी पर हमला बोला। प्रयागराज के एक होटल में आयोजित सम्मेलन में सतीश मिश्र ने कहा बसपा का गठबंधन जनता के साथ हो गया है। ब्राह्मण समाज एकजुट होकर बसपा के साथ खड़ा है। उन्होंने कहा कि जनता के गठबंधन का सही परिणाम मिलेगा।

हंडिया विधानसभा के सैदाबाद में सम्मेलन के बाद सतीश चंद्र मिश्र ने शहर में चुनावी बिगुल फूंका। उन्होंने भाजपा और सपा दोनों पर निषाना साधा। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी श्रीराम की ठेकेदारी कर रही है। उन्होंने कहा कि यूपी में जंगलराज है। उन्होंने कहा कि इस सरकार में ब्राह्म्ण, मजदूर, किसान, व्यापारी सभी वर्ग के लोग परेशान हैं। प्रदेशभर के 450 संस्कृत विद्यालय-महाविद्यालय बंद हो चुके हैं। प्रयागराज में ही 19 विद्यालयों में ताला लग चुका है। इसकी वजह यह है कि शिक्षकों की नियुक्ति नहीं हुई। उन्होंने कहा कि भाजपा ने संस्कृत और सनातम धर्म को भी नुकसान पहुंचाया है। सभी संस्कृत विद्यालयों में वेद आदि की शिक्षा बंद कर कम्प्यूटर, अंग्रेजी व अन्य आधुनिक शिक्षा शुरू कर दी गई। इससे सनातन ज्ञान लुप्त हो जाएगा। इससे पूर्व संजय गोस्वामी ने बसपा के राष्ट्रीय महासचिव को बाबा विश्वनाथ की तस्वीर और त्रिशूल भेंट किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *