Breaking News

कुख्यात अपराधी हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे का साथी गिरफ्तार, कानपुर एनकाउंटर में दिया था साथ

बीते दिनों कानपुर के चौबेपुर में हुई पुलिस और बदमाशों की मुठभेड़ ने पूरे विभाग में हड़कंप का माहौल बना दिया है, दरअसल इस घटना को अंजाम देने वाला हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे अब पुलिस के साथ लुका-छिपी खेल रहा है. हालांकि पुलिस लगातार उसे पकड़ने के लिए दिन-रात तलाशी अभियान चला रही है, वहीं इस बीच शनिवार रात को पुलिस ने दबिश देते हुए कुख्यात अपराधी विकास दुबे के साथी दयाशंकर अग्निहोत्री को कल्याणपुर से गिरफ्तार कर लिया है. बताया जा रहा है कि अग्निहोत्री को कल रात मुठभेड़ के दौरान पुलिस ने धर दबोचा. इस घटना की जानकारी न्यूज एजेंसी एएनआई ने दी है. बहरहाल विकास दुबे की तलाश पुलिस ने उत्तर प्रदेश के साथ-साथ अन्य राज्यों में भी तेज कर दी है. पुलिस को शक है कि विकास नेपाल भागने की तैयारी में था इसलिए बॉर्डर पर चेकिंग अभियान भी तेज किया गया है, वहीं इस पूरे मामले में पुलिस की 25 से ज्यादा टीमें काम कर रही हैं.

बता दें कि गुरुवार देर रात चौबेपुर के बिकरू गांव में हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के गुर्गों ने पुलिस बल पर हमला किया था, जिसमें 8 पुलिसकर्मियों की खबर सामने आई थी, हालांकि इस दौरान दो हमलावर भी मारे गए थे. इस घटना के बाद से सीएम योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को कड़ी कार्यवाई के निर्देश दिए हैं. जिसका काउंटडाउन उसकी प्रोपर्टी, बैंक अकाउंट सीज, सब जब्त करके शुरू हो चुका है.

वहीं अब पुलिस को विकास दुबे की तलाश है. इस बीच, कानपुर पुलिस ने गैंगस्टर विकास दुबे को हीरो बनाने की कोशिश में सोशल मीडिया पर उसके समर्थन में पोस्ट करने वाले कुछ लोगों के खिलाफ कानूनी कार्यवाई करना शुरू कर दिया है. पुलिस ने कानपुर के फजलगंज थाने और काकादेव थाने में दो लोगों के लिए खिलाफ (FIR) पंजीकृत कराई है. कानपुर दक्षिण की पुलिस अधीक्षक अपर्णा गुप्ता ने कहा कि आगे भी इस तरह की कार्रवाई जारी रहेगी.

 

मालूम हो कि कुख्यात अपराधी विकास दुबे के खिलाफ 60 से भी ज्यादा केस दर्ज हैं. पुलिस ने मुख्य अभियुक्त विकास पर इनाम की राशि को 50,000 से बढ़ाकर एक लाख रुपये कर दिया गया है. साथ ही 18 अन्य नामजद अभियुक्तों पर 25,000-25,000 रुपये का इनाम घोषित किया गया है. पुलिस ने कहा कि विकास दुबे की जानकारी देने वालों को नाम उजागर नहीं किया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *