Breaking News

ओमिक्रॉन से जंग जीतने के लिए तैयार दिल्ली सरकार, सीएम केजरीवाल बोले-रोजाना 1 लाख केस हैंडल करने की तैयारी

दिल्ली के सीएम केजरीवाल (Delhi CM Kejriwal) ने आज कोरोना और ओमिक्रोन के मामले पर की गई हाई लेवल कमेटी पर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. उन्होंने बताया कि कोरोना के ओमिक्रोन वेरिएंट (Omicron Variant) को लेकर सरकार के साथ ही सभी लोग चिंतित हैं. इस मुद्दे पर उन्होंने आज सुबह सभी विभागों के साथ मीटिंग की. सीएम केजरीवाल ने कहा कि ओमिक्रोन को लेकर दो अहम बाते सामने आई हैं. उन्होंने कहा कि नया वेरिएंट बहुत ही तेजी से फैलता है. दूसरी बात ये है कि यह काफी माइल्ड है. ओमिक्रॉन संक्रमित मरीजों का दाखिले अस्पतालों में कम हो रहे हैं. इससे होने वाली मौतें भी काफी कम हैं. इसी बात को ध्यान में रखकर दिल्ली सरकार ने अपनी तैयारियां की हैं.

दिल्ली के सीएम ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि अगर ओमिक्रॉन वेरिएंट अगर बहुत तेजी से फैलता है तो इंफ्रास्ट्रक्चर उसी के हिसाब से होना चाहिए. उन्होंने कहा कि सरकार (Delhi Government) ने हर दिन करीब 3 लाख टेस्ट करने की क्षमता विकसित की है. जिससे जरूरत पड़ने पर एक दिन में आसानी से तीन लाख टेस्ट किए जा सकें.उन्होंने कहा कि अभी हर दिन 60 से 70 हजार कोरोना टेस्ट किए जा रहे हैं. लेकिन अगर हर दिन 3 लाख टेस्ट करने की जरूरत पड़ती हैतो दिल्ली इसके लिए तैयार है.

‘संक्रमण से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार’

दिल्ली के सीएम ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान हर दिन 26 से 27 हज़ार मामले सामने आए थे. इसीलिए इस बार दिल्ली सरकार की तैयारी बहुत ही अच्छी है. उन्होंने कहा कि इस बार अगर हर दिन 1 लाख मामले भी सामने आए तो इससे निपटने के लिए दिल्ली सरकार पूरी तरह से तैयार है. सीएम केजरीवाल ने कहा कि ओमिक्रॉन के लक्षण काफी माइल्ड हैं, इसीलिए उन्होंने जनता से अपील की कि लोग संक्रमित होने पर घर पर रहकर ही अपना इलाज कराएं. सीएम ने कहा कि बेवजह लोग अस्पताल जाने से बचे. उन्होंने कहा कि माइल्ड लक्षण होने पर सरकार घर पर ही लोगों का इलाज कराने का कोशिश करेगी. इसीलिए दिल्ली सरकार होम आइसोलेशन के मॉडल को बहुत मजबूत बना रहे हैं.

दिल्ली के सीएम ने कहा कि जैसे ही किसी भी संक्रमित मरीज की रिपोर्ट आएगी उसे तुरंत कॉल कर बताया जाएगा कि दिल्ली सरकार लगातार उसके संपर्क में रहेगी. उन्होंने कहा कि अगले दिन मेडिकल टीम मरीज के घर जाकर उसे एक मेडिकल किट देगी. इस किट में दवाएं प्रिस्क्रिप्शन, ऑक्सीमीटर समेत सभी जरूरी चीजें मौजूद रहेंगी. इसके बाद मरीज से फोन पर बात भी की जाएगी. उन्होंने कहा कि इसके लिए अगले 1 से 2 दिन में एजेंसी को हायर किया जाएगा. इसके लिए उन्होंने आदेश जारी किए हैं.

‘1 लाख मरीज हैंडल कर सकेगी दिल्ली सरकार’

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अभी दिल्ली की क्षमता रोजाना 1000 मामलों को हैंडल करने की थी. लेकिन इसको बढ़ाकर एक लाख किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि अगर हर दिन एक लाख घर भी विजिट करने की जरूरत पड़ी तो इसके लिए दिल्ली सरकार पूरी तरह से तैयार है. उन्होंने कहा कि इस काम के लिए मैनपावर का इंतजाम किया जा रहा है. 2 महीने के लिए मेडिसिन का स्टॉक तैयार किया जा रहा है. अगले कुछ दिनों में इसे खरीद लिया जाएगा. उन्होंने कहा कि इस बार पिछली बार की तरह ऑक्सीजन की कमी भी नहीं होगी. इसका पूरा इंतजाम किया जा रहा है.

सीएम केजरीवाल ने कहा कि कोरोना की पिछली लहर के दौरान दिल्ली सरकार के पास दूसरे राज्यों से ऑक्सीजन लाने के लिए ट्रक ही नहीं . उन्होंने कहा कि इससे पहले दिल्ली सरकार को कभी भी ट्रकों की जरूरत ही नहीं पड़ी. लेकिन अब 3 से 4 हफ्तों में ही 15 ऑक्सीजन टैंकर डिलीवर हो जाएंगे. दिल्ली के सीएम ने कहा कि दिल्ली के भीतर सीरो सर्वे 95 फीसदी से ज्यादा आया है. इसका मतलब है कि इतने लगो पहले ही कोरोना संक्रमित हो चुके हैं. उन सभी में एंटीबॉडीज बन चुकी हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *