Thursday , September 24 2020
Breaking News

इस शख्स के पास है, बांग्लादेश और श्रीलंका से भी ज्यादा लड़ाकू विमान, जानिए क्या है वजह?

दुनिया में जब कोई देश किसी देश से टकराने की सोंचता है। तो सबसे पहले वह अपने विरोधी देश की सामरिक शक्ति की गणना करता है तो उसमें संबंधित देश की वायु शक्ति महत्वपूर्ण भूमिका अदा करती है। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे व्यक्ति के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके पास बांग्लादेश और श्रीलंका से भी ज्यादा लड़ाकू विमान मौजूद हैं।

ये व्यक्ति फ्रांस का रहने वाला है। फ्रांस के बिओने टाउन में रहने वाले 87 वर्षीय मिशेल पोंट के पास दुनिया की सबसे बड़ी प्राइवेट फ्लीट है जिसमें 110 लड़ाकू विमान शामिल हैं। ग्लोबल फायर इंडेक्स 2019 के अनुसार बांग्लादेश के पास कुल 90 लड़ाकू विमान हैं जबकि श्रीलंका के पास कुल 76 एयरक्राफ्ट हैं जिसमें हेलीकॉप्टर भी शामिल हैं।

मिशेल पोंट के विमानों के फ्लीट में हाल में ही अमेरिका का अत्याधुनिक एफ-16 भी शामिल हुआ है। वह दुनिया में अकेले ऐसे शख्स हैं जिनके पास इतनी बड़ी संख्या में हवाई जहाज हैं। मिशेल पेशे से पायलट रह चुके हैं।

ये सभी लड़ाकू जहाज उनके गार्डन में मौजूद हैं। इतनी बड़ी संख्या में लड़ाकू जहाज रखने के कारण इनका नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी दर्ज है। हालाकि इसमें से कोई भी विमान उड़ान भरने की स्थिति (फ्लाइवे कंडीशन) में नहीं है।

उनके इस प्राइवेट म्यूजियम को देखने के लिए हर साल लगभग 40 हजार पर्यटक पहुंचते हैं। इससे होने वाली कमाई से वह नए फाइटर प्लेन को खरीदते हैं। जिससे उनके बेड़े में विमानों की संख्या बढ़ सके। मिशेल ने लड़ाकू विमानों को संग्रहित करने का काम साल 1980 में शुरू किया था। जबकि उन्हें पहला लड़ाकू विमान सेना की तरफ से एक रेस जीतने पर इनाम के तौर पर मिला था।

उनके इस रूसी मूल का मिग-21 विमान है। इसी के उन्नत संस्करण मिग 21 बाइसन का उपयोग आज भी भारतीय वायु सेना करती है। यह ब्रिटिश मूल का सिंगल इंजन वाला डीएच-112 वेनम विमान है। इसका उपयोग रॉयल एयरफोर्स (RAF) द्वारा स्वेज संकट के दौरान किया गया था।

यह फ्रांसीसी मूल का सिंगल सीट और सिंगल इंजन वाला डसॉल्ट मिराज III लड़ाकू विमान है। इसे फ्रांसीसी कंपनी डसॉल्ट एविएशन द्वारा विकसित और निर्मित किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *