Breaking News

आ गया दुनिया का अब तक का सबसे सटीक नक्शा, इससे बेहतर कोई नहीं!

हम छोटे थे तब से हमें विश्व को देखने के कुछ तय नजरिए दिए गए. लेकिन नक्शा बनाने वाले इसे एटलस और जियोग्राफी के टेक्स्टबुक में हमेशा सटीक बनाने की कोशिश करते आए हैं. अभी तक कोई ऐसा नक्शा नहीं बना जो एकदम सटीक हो. कुछ मैपमेकर यानी नक्शा निर्माताओं का दावा है कि उन्होंने अब तक का सबसे सटीक नक्शा बनाया है. ये नक्शा दो तरफा है. ये गोल है. इसके बावजूद ये सबसे कम गलतियों वाला नक्शा है. इस मैप को बनाया है दुनिया के बेहतरीन नक्शा निर्माताओं की टीम ने. इस टीम के लीडर हैं- प्रिंसटन यूनिवर्सिटी में एस्ट्रोफिजिक्स के प्रोफेसर जे. रिचर्ड गॉट. दो तरफा और गोल होने के बावजूद यह पारंपरिक 2डी नक्शे की सीमाओं से बेहतर है. प्रोफसर गॉट कहते हैं कि अगर आप चींटी होते तो इस फोनोग्राफ रिकॉर्ड के आकार नक्शे के एक तरफ से दूसरी तरफ चले जाते.


प्रोफेसर रिचर्ड गॉट का ये नक्शा छह तरह की गलतियों से परे है. ये गलतियां है स्थानीय आकार, क्षेत्रफल, दूरी, मोड़ या घुमाव, तिरछापन और बाउंड्री कट्स. यानी इन मामलों में यह दुनिया का अब तक का सबसे सटीक नक्शा है. जितना कम स्कोर होता है उतनी कम गलतियां होती हैं. जैसे कोई ग्लोब. इसलिए प्रोफेसर रिचर्ड कहते हैं कि हमारा नक्शा आम फ्लैट नक्शों की तुलना में ग्लोब जैसा है. प्रोफेसर रिचर्ड कहते हैं कि ग्लोब के अलग-अलग हिस्सों को देखने के लिए आपको उसे घुमाना पड़ता है. हमारे वर्ल्ड मैप को देखने के लिए आपको बस इसे फ्लिप करना है. टेक्स्टबुक और एटलस में दो प्रकार के नक्शे देखने को मिलते हैं. द विंकेल ट्रिपल फ्लैट मैप प्रोजेक्शन को 4.563 का स्कोर मिला है. जबकि, द मर्केटर प्रोजेक्शन को 8.296 स्कोर मिला है.

प्रोफेसर रिचर्ड गॉट, रॉबर्ट वैंडरबी और डेविड गोल्डबर्ग द्वारा बनाए गए नक्शे का स्कोर 0.881 है. यानी अब तक का सबसे कम स्कोर जिसका मतलब ये होता है कि ये दुनिया का सबसे सटीक नक्शा है. ये एक नया रिकॉर्ड है. इससे पहले प्रोफेसर गॉट ने चार्ल्स मगनोलो के साथ 2007 में सबसे सटीक नक्शा बनाने का रिकॉर्ड बनाया था. द विंकेल ट्रिपल फ्लैट मैप और द मर्केटर प्रोजेक्शन मैप के साथ छोटी दूरी में गलतियों की बहुत दिक्कत है. जबकि प्रोफसर गॉट के नक्शे में यह गलतियां अत्यधिक कम हैं. प्रोफसर रिचर्ड गॉट कहते हैं कि आम लोगों के लिए यह नक्शा ऐसा है कि इसे आप एक पन्ने के दोनों तरफ प्रिंट करवा लीजिए और उसे देखिए. प्रोफेसर की टीम चाहती है कि वह इस नक्शे को कार्डबोर्ड या प्लास्टिक पर प्रिंट कराएं ताकि उन्हें किसी जगह संभाल कर रखा जा सके. ताकि किसी को जरूरत हो तो वह एक बार में ही पूरी दुनिया का बेहतरीन सटीकता वाला नक्शा देख सके.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *