Breaking News

अमेरिका में विवादित गर्भपात कानून पर लगाई गई अस्थाई रोक, आखिर क्यों इससे मचा था पूरे देश में कोहराम

अमेरिका में फेडरल जज (Federal Judge) ने टेक्सास (Texas) में विवादित गर्भपात कानून (Most Restrictive Abortion law in the US) पर अस्थाई रोक लगा दी है. जज ने इस कानून पर अस्थाई रोक बायडन सरकार के अनुरोध के बाद लगाई है. पूरे अमेरिका में इस कानून का विरोध हो रहा था. टेक्सास में एक सितंबर को लागू किए गए इस कानून के तहत लगभग हर तरह के गर्भपात पर रोक लग गई थी. इस कानून के मुताबिक, भ्रूण में दिल की धड़कन के पाए जाने के बाद गर्भपात कराने पर मनाही है. फेडरल जज ने अपना फैसला सुनाते हुए इस संवैधानिक अधिकार पर हमला बताया है.

क्या था कानून में?

धड़कन का पता अमूमन गर्भ के छठे हफ्ते में चलता है लेकिन कई मामलों में इस अवधि तक महिलाओं को पता नहीं चल पाता है कि वो गर्भवती हैं. इस कानून में बलात्कार के मामलों से हुए गर्भ धारण के लिए भी कोई छूट नहीं है. पूरे देश में इस कानून का विरोध हो रहा है. बाइडेन सरकार ने डिस्ट्रिक्ट जज रॉबर्ट पिटमैन से अनुरोध किया था कि इस कानून को लागू होने से रोका जाए क्योंकि यह अमेरिकी संविधान के खिलाफ है. टेक्सास प्रशासन चाहे तो इस रोक के खिलाफ अपील कर सकता है.

फेडरल जज ने क्या कहा?

113 पेज के अपने फैसले में जज पिटमैन ने कहा कि टेक्सास के अफसरों ने एक अभूतपूर्व और आक्रामक योजना बनाई, जिसने राज्य के नागरिकों से एक महत्वपूर्ण और स्थापित संवैधानिक अधिकार छीन लिया है. जिस पल से एसबी आठ लागू हुआ, महिलाओं को गैरकानूनी रूप से उनके अपने जीवन से जुड़े फैसले लेने के संविधान द्वारा मान्यता प्राप्त अधिकारों से वंचित कर दिया गया है. जज ने यह भी कहा, “यह कोर्ट इतने महत्वपूर्ण अधिकार के इतने अपमानजनक हरण को एक और दिन भी चलने की अनुमति नहीं देगी. चूंकि टेक्सास अभी भी इस फैसले के खिलाफ अपील कर सकता है, संभव है कि मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुंच जाए.

व्हाइट हाउस ने किया फैसले का स्वागत

व्हाइट हाउस ने फैसले का स्वागत करते हुए उसे टेक्सास में महिलाओं के संवैधानिक अधिकार को बहाल करने की राह में एक महत्वपूर्ण कदम बताया. स्पाेक्सपर्सन जेन साकी ने कहा कि इसके बावजूद गर्भपात के अधिकार पर टेक्सास और अन्य राज्यों में अभी भी खतरा मौजूद है, इसलिए बायडन इस बात का समर्थन करते हैं कि गर्भपात के अधिकार को देने वाले सुप्रीम कोर्ट के महत्वपूर्ण रो बनाम वेड फैसले को कानून की शक्ल दी जाए. नौ जजों वाले सुप्रीम कोर्ट में रूढ़िवादी बहुमत में हैं. कोर्ट ने पहले ही टेक्सास वाले कानून को रोकने के लिए की गई अपीलों को अस्वीकार कर दिया था

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *