Breaking News

Yamaha ने लॉन्च किया Nmax 155 स्कूटर, जानिए इसमें क्या कुछ है खास

यामाहा ने यूरोपीय बाजारों के लिए नया अपडेटेड 2022 एनएमएक्स 155 मोटो-स्कूटर पेश किया है. स्कूटर का कनेक्शन Yamaha Aerox 155 से है, जिसे हाल ही में भारतीय बाजार में लॉन्च किया गया था, क्योंकि दोनों ही कंपनी की नई स्पोर्ट्स बाइक – YZF-R15 V4 से पावर लेते हैं.

2022 के लिए, यामाहा ने स्कूटर को और अधिक एडवांस और खरीदारों के यंग ग्रुप के लिए आकर्षक बनाने के लिए कुछ छोटे-मोटे बदलाव दिए हैं. जापानी ऑटोमेकर ने नए एलईडी हेडलैंप, लोअर-प्लेस्ड हैंडलबार, और मामूली बाहरी बॉडी अपडेट जैसे स्पर्शों की बदौलत स्कूटर के लुक को बदल दिया है. स्कूटर को मोड़ना आसान बनाने के लिए कंपनी ने हैंडलबार को बदल दिया है. इसके अलावा, एर्गोनॉमिक्स को भी मामूली रूप से ट्वीक किया गया है.

Yamaha Nmax 155 स्कूटर की खासियत

स्कूटर को अब अपने बड़े फ्यूल टैंक की बदौलत 300 किमी की लंबी फ्यूल रेंज (दावा किया गया) मिलता है, जो एक बार में 7.1-लीटर फ्यूल को स्टोर कर सकता है. पावरट्रेन की बात करें तो यह R15 V4 स्पोर्ट्स बाइक से इंजन का सोर्स जारी रखता है. यह एक 155cc, लिक्विड-कूल्ड, सिंगल-सिलेंडर इंजन है जिसे मैक्सिमम 15 bhp की पावर जनरेट करने के लिए रेट किया गया है. यह इंजन Yamaha के वेरिएबल वॉल्व एक्चुएशन (VVA) सेटअप के साथ आता है.

स्कूटर ब्लूटूथ कनेक्टिविटी जैसे कई लेटेस्ट फीचर्स को स्पोर्ट करता है जो राइडर को राइडर के स्मार्टफोन के साथ वाहन को जोड़ने में सक्षम बनाता है. यह यूजर को यामाहा के स्मार्टफोन एप्लिकेशन के माध्यम से नेविगेशन, ट्रैवल डिटेल और मेंटीनेंस सर्विस प्रोग्राम जैसी जानकारी तक पहुंचने की परमीशन देता है. अधिक सुविधा के लिए Nmax 12V चार्जिंग सॉकेट के साथ आता है.

इस स्कूटर को भारतीय बाजार में पेश किए जाने में देरी की जा सकती है क्योंकि कंपनी के पास पहले से ही Aerox 155 है जो Nmax 155 के बराबरी वाले सेगमेंट में है.

चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर और बैटरी प्रोडक्शन का रिव्यू कर रही कंपनी 

जापान की टू-व्हीलर मैनुफैक्चरर कंपनी यामाहा भारत में इलेक्ट्रिक व्हीकल कटेगरी में कदम रखने से पहले चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर और बैटरी प्रोडक्शन जैसे फैक्टर्स का बारीकी से रिव्यू कर रही है. कंपनी के एक टॉप अधिकारी ने यह जानकारी दी. कंपनी ने कहा कि इलेक्ट्रिक व्हीकलों (ईवी) की सफलता पूरी तरह से बड़े पैमाने पर कस्टमर्स के इंटरेस्ट या मंजूरी पर निर्भर करती है, जो बेसिक स्ट्रक्चर, चार्जिंग स्टेशनों और बैटरी प्रोडक्शन की उचित उपलब्धता के साथ ही संभव है.

यामाहा मोटर इंडिया के अध्यक्ष मोटोफुमी शितारा ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘हम ईवी की मांग को मजबूत करने के लिए राज्य सरकारों द्वारा शुरू की गई नई ईवी पॉलिसी का स्वागत और सराहना करते हैं, लेकिन निवेश से जुड़ी बड़ी चुनौतियां हैं.’ उन्होंने कहा, ‘हम भारतीय बाजार में अपने किसी भी प्रोडक्ट को पेश करने से पहले प्राइस सीलिंग, परफॉर्मेंस और बेसिक स्ट्रक्चर जैसे फैक्टर्स पर विचार कर रहे हैं.’ शितारा ने कहा कि फसीनो 125 एफआई हाइब्रिड और आरएवायजेदार 125 एफआई हाइब्रिड भारतीय बाजार के इलेक्ट्रिक व्हीकल कटेगरी में एंट्री करने की दिशा में कंपनी का पहला कदम है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *