Breaking News

Koo App के फाउंडर बोले- चीनी निवेशक हो रहे हैं अलग, अब हम आत्मनिर्भर भारत ऐप

ट्विटर विवाद (Twitter Controversy) के बीच चर्चा में आई ऐप ‘कू’ (Koo) अब पूरी तरह आत्मनिर्भर भारत ऐप (Atmanirbhar Bharat App) होने जा रही है. इस ऐप में शामिल चीनी निवेशक शुनवेई कैपिटल (Shunwei Capital) ने कंपनी से बाहर जाने का फैसला किया है. इस बात की जानकारी कू के सह-संस्थापक और सीईओ अप्रमेय राधाकृष्ण ने सीएनबीसी-टीवी18 से खास बातचीत में दी. खास बात है कि देश की कई बड़ी हस्तियों ने इस ऐप के इस्तेमाल की बात कही है.

अप्रमेय राधाकृष्ण ने कहा कि पहले वोकल ब्रांड (Vokal Brand) में निवेश करने वाली शुनवेई कैपिटल इस ऐप से बाहर जा रही है. उन्होंने बताया ‘शुनवेई ने इससे पहले के ब्रांड वोकल में निवेश किया था. हमने कू पर ध्यान लगाया. वे इस कंपनी से बाहर जा रहे हैं. हम वास्तव में एक आत्मनिर्भर भारत ऐप हैं.’ बुधवार को ही उन्होंने जानकारी दी थी कि यह भारत में रजिस्टर्ड कंपनी है और इसके सभी संस्थापक भारतीय हैं.

उन्होंने लिखा था ‘2.5 साल पहले पूंजी जुटाई थी. बॉम्बिनेट टेक्नोलॉजीस के लिए नए फंड्स भारतीय निवेशक 3one4 कैपिटल से मिले हैं.’ उन्होंने आगे जानकारी दी ‘शुनवेई, जिसने हमारी वोकल में निवेश किया था, अब पूरी तरह से इससे बाहर जा रही है.’ 3one4 कैपिटल बेंगलुरु की एक कंपनी है. कू ने अब तक 40 लाख डॉलर से ज्यादा का निवेश जुटा लिया है. इसके दूसरे निवेशकों में कलारी कैपिटल और ब्लूम वेंचर्स का नाम भी शामिल है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *