Breaking News

IPL 2021: धोनी ने खोला CSK की सफलता का राज, जीत का ढूंढ़ा आसान तरीका, उसी पर अमल कर रहे हैं खिलाड़ी

चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) के लिए IPL 2020 भले ही खराब गुजरा था. लेकिन, IPL 2021 में वो फिर से जीत के ट्रैक पर लौट आए हैं. उन्हीं खिलाड़ियों के साथ जिनके रहते पिछले सीजन भद्द पिटी थी, इस सीजन अंकतालिका में टॉप पर चल रहे हैं. टीम का जलवा है. प्लेऑफ खेलना लगभग तय है. और, पीली जर्सी वालों के खेल का जो स्तर दिख रहा है, उसे देखकर भी साफ है कि इस बार धोनी (Dhoni) के सुपर किंग्स के इरादे कुछ और ही हैं. अब सवाल है कि आखिर ऐसा क्या हुआ, कौन सी तरकीब निकाली धोनी ने कि टीम ट्रासफॉर्म हो गई. उसे जीत की आदत पड़ गई. तो शारजाह में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (Royal Challengers Banglore) को हराने के बाद धोनी ने खुद ही इस बड़े सवाल का जवाब दिया है.

CSK के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा कि उनकी टीम का सिंपल फंडा है. और, वही उनकी कामयाबी का मंत्र है. अब ये सिंपल फंडा क्या है, वो भी समझ लीजिए. दरअसल, उन्होंने अपनी टीम के हर खिलाड़ी को उसका रोल बता रखा है. उन्होंने उसकी जिम्मेदारी तय कर रखी है. टीम के हर एक सदस्य को पहले से ही अपने रोल और उसे कब क्या करना है ये पता है. यही चीज उनकी टीम को कामयाब बनाती है. इसके अलावा अपनी टीम की नीतियों को मैदान पर अमल में लाने के लिए भी चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाड़ी कड़ी मेहनत करते हैं.

धोनी के दिए रोल पर जब ब्रावो उतरे खरे

CSK के खिलाड़ी अपने रोल, अपनी जिम्मेदारियों पर कैसे खरे उतर रहे हैं, अब जरा वो भी समझ लीजिए. इसकी शुरुआत RCB के खिलाफ हीरो बने डीजे ब्रावो से ही करते हैं. ब्रावो इस मैच में 3 विकेट चटकाकर मैच के हीरो बने थे. विराट और पडिक्कल की जोड़ी को तोड़ने का भी उन्होंने ही किया था. धोनी अक्सर ब्रावो का इस्तेमाल डेथ ओवर्स में करते हैं. लेकिन, इस मैच में पिच के स्लो मिजाज को देखते हुए उन्होंने उनकी भूमिका बदल दी, जिसके बारे में धोनी ने मैच के बाद भी जिक्र किया. उन्होंने कहा कि, ” पिच धीमी थी. ऐसे में मुझे ब्रावो को जल्दी लगाना पड़ा. क्योंकि ब्रावो को अटैक पर लाने में मैं जितना देर करता मुश्किलें और बढ़ती. इसलिए मैंने बीच के ओवरों में स्पिनर्स से ना कराकर ब्रावो को गेंद थमाई.” धोनी की इस चाल पर ब्रावो पूरी तरह से खरे उतरे.

CSK के ओपनर को पता है उन्हें क्या करना है?

ठीक वैसे ही CSK के ओपनर्स को भी अपना रोल पता है. वो ये जानते हैं कि उन्हें क्या करना है. उन्हें टीम को बेहतर शुरुआत दिलाने की जिम्मेदारी सौंपी गई है. जो कि इस सीजन रुतुराज गायकवाड और फाफ डु प्लेसी की जोड़ी बखूबी करती दिख रही है. दोनों ने अब तक खेले 9 मैचों में 450 रन जोड़े हैं. इनमें 2 शतकीय और 2 अर्धशतकीय साझेदारियां शामिल हैं. इन 9 में से 7 मैच CSK की टीम जीती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *