Breaking News

BJP ने टिकट वितरण के लिए बनाया ऐसा प्लान, सुनील बंसल के व्यूह से निकलेंगे प्रत्याशी

विधानसभा चुनाव में टिकट बंटवारे को लेकर सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी ने विशेष रणनीति बनाई है। बीजेपी ने टिकट वितरण में गुटबाजी को रोकने के तैयारी कर ली है। पार्टी नेतृत्व ने उत्तर प्रदेश में दूसरे प्रदेश के बड़े पदाधिकारियों की एक टीम उतार दी है। प्रदेश से लेकर क्षेत्रीय स्तर और विधानसभाओं तक दूसरे राज्य के पदाधिकारियों को तैनात कर दिया गया है। इन्हीं प्रत्याशियों से विधानसभा की वास्तविक जानकारी ली जाएगी। जिताऊ प्रत्याशियों के नामों का सही फीडबैक ये पदाधिकारी ही देंगे। दूसरे राज्यों के पदाधिकारियों की तैनाती से टिकट वितरण में गुटबाजी पर विराम लग जाएगा। भारतीय जनता पार्टी जिताऊ उम्मीदवार का सही फीडबैक शीर्ष नेतृत्व तक पहुंचाना चाहती है। भारतीय जनता पार्टी संगठन के अभियानों को धार मिले, जिससे बीजेपी के पक्ष में चुनावी माहौल बनाया जा सके। भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश की सभी 403 विधानसभा सीटों पर 806 प्रवासी पदाधिकारी तैनात कर दिए हैं।

बीजेपी संगठन ने उत्तर प्रदेश की प्रत्येक विधासभा सीट की घेराबंदी शूरू कर दी है। इन सीटों पर स्थानीय संगठन के पदाधिकारी पहले से तैनात हैं। प्रत्येक स्थानीय सीट पर गुजरात, एमपी, झारखंड, बिहार समेत दूसरे राज्यों के पदाधिकारियों को तैनात किया गया है। बीजेपी की रणनीति है कि प्रत्येक विधानसभा सीट पर प्रवासी पदाधिकारी तैनात किए जायें। उत्तर प्रदेश में 806 ऐसे पदाधिकारी तैनात हो चुके हैं, जो दूसरे राज्यों से हैं। अब प्रत्येक सीट पर एक महिला प्रवासी की भी तैनाती की जा रही है जो महिलाओं की रूझान के बारे में जानकारी देगी।

सुनील बंसल ने की हर सीट पर की व्यूह रचना

भारतीय जनता पार्टी के संगठन महामंत्री सुनील बंसल उत्तर प्रदेश चुनावों के मुख्य रणनीतिकार हैं। सुनील बंसल की व्यूह रचना से बीजेपी पिछले चुनाव लगातार जीतती आ रही है। बंसल ने उत्तर प्रदेश में चुनावी प्रबंधन का जिम्मा जेपीएस राठौर को दिया है। जेपीएस राठौर ने पूरे प्रदेश की सभी विधानसभा सीटों पर प्रभारी, जिला प्रभारी और क्षेत्रीय अध्यक्ष की तैनाती है। सभी विधानसभा में क्षेत्रीय प्रभारी भी लगाए हैं। प्रत्येक क्षेत्र में क्षेत्रीय अध्यक्ष के साथ ही अब दूसरे राज्य के पदाधिकारी की हर क्षेत्र में अलग से तैनाती की गई है। विधान सभा के टिकट वितरण में प्रवासी कार्यकर्ताओं का फीडबैक ही सबसे अहम माना जाएगा। विधानसभा में इन प्रभारियों के भाग्य फैसला होना है।

प्रवासी कार्यकर्ताओं की बंसल ने ली बैठक

UP संगठन के महामंत्री सुनील बंसल ने बीजेपी प्रदेश कार्यालय में प्रवासी कार्यकर्ताओं की बैठक ली है। इसमें गुजरात संगठन के महामंत्री रत्नाकर मौजूद रहे। इस बैठक में विधनसभा चुनावों के अभियानों को धार देने और संपर्क अभियानों को मजबूत करने पर चर्चा हुई। गुजरात के संगठन महामंत्री रत्नाकर, झारखंड के संगठन महामंत्री धर्मपाल समेत कई दिग्गज यूपी में पहुंच चुके हैं। ज्ञात हो कि गुजरात के संगठन महामंत्री रत्नाकर यूपी के रहने वाले हैं और यहां पार्टी के अभियानों में लगातार सक्रिय रहे हैं। झारखंड के संगठन महामंत्री धर्मपाल यूपी में विद्यार्थी परिषद का प्रभार देख चुके हैं। यूपी के बूथ स्तर तक धर्मपाल की पकड़ है। इसी तरह एमपी के संगठन महामंत्री हितानंद अवध क्षेत्र में लगाए गए हैं।

अवध की 11 सीटों पर गुजरात के 165 पदाधिकारी तैनात

अवध क्षेत्र की 11 विधानसभा सीटों पर गुजरात के 165 पदाधिकारी तैनात कर दिए गए हैं। दो-दो वरिष्ठ पदाधिकारी हर विधानसभा सीट पर तैनात किए गए हैं। एमपी के सह संगठन मंत्री हितानंद को अवध क्षेत्र में लगाया गया है। यूपी की सभी 403 विधानसभा सीटों पर प्रवासी महिला कार्यकर्ताओं की तैनाती की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *