Breaking News

6 सितंबर को ये दो बड़े ग्रह करेंगे राशि परिवर्तन, देखें क्‍या होंगे शुभ-अशुभ प्रभाव

हर व्यक्ति के जीवन में ग्रह-नक्षत्रों का बहुत प्रभाव पड़ता है। ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक ग्रह निरंतर अपनी राशि में परिवर्तन करते हैं। ग्रहों की हलचल से ही सभी राशियां प्रभावित होती हैं। इस माह 6 सितंबर (6 september) को दो ग्रह अपनी राशियां बदल रहे हैं, इनमें शुक्र और मंगल ग्रह शामिल हैं। इन ग्रहों का परिवर्तन सभी राशियों पर शुभ-अशुभ प्रभाव डालेगा। आइए जानते हैं कि ग्रहों की चाल के परिवर्तन से आपकी राशि पर क्या असर पड़ेगा।

मंगल और शुक्र गोचर का दिन व समय
6 सितंबर को शुक्र अपनी स्वराशि तुला में प्रवेश करेगा, तो वहीं मंगल कन्या राशि (Virgo sun sign) में गोचर करेगा। कन्या राशि में मंगल का गोचर 6 सितंबर 2021 को सुबह 3:21 बजे से 22 अक्टूबर दोपहर 1:13 बजे तक रहेगा, इसके बाद यह तुला राशि में प्रवेश कर जाएगा। वहीं इसी दिन शुक्र का तुला राशि (Libra) में गोचर 12:39 पर होगा और यह 2 अक्टूबर 2021 तक सुबह 9।35 मिनट तक इसी राशि में रहेगा और उसके बाद वृश्चिक राशि (Scorpio) में गोचर कर जाएगा।

शुक्र के गोचर का प्रभाव
काल पुरुष कुंडली में शुक्र ग्रह को तुला और वृषभ राशि का स्वामी और द्वितीय और सप्तम भाव का स्वामी माना गया है। ज्योतिष की दुनिया में इसे स्त्री ग्रह का दर्जा दिया गया है। व्यक्ति की कुंडली में शुक्र ग्रह जीवन साथी, प्रेम जीवन, विवाह और किसी भी प्रकार की साझेदारी का प्रतिनिधित्व करता है। शुक्र के गोचर से प्रेम संबंध, पेशेवर जीवन, व्यावसायिक जीवन में असर देखने को मिलता है।

मंगल का गोचर
मंगल ग्रह की तो यह ग्रह ऊर्जा, आत्मविश्वास (Self-confidence) और अहंकार के साथ स्वभाव से तमस गुण का प्रतिनिधित्व करता है। लाल रंग मंगल ग्रह का प्रतीक माना गया है। सप्ताह में मंगलवार के दिन पर इनका शासन है। मंगल के गोचर से व्यक्ति के जीवन में शारीरिक और भावनात्मक परिवर्तन देखने को मिलते हैं।

इन राशियों के लिए रहेगा शुभ
6 सितंबर को होने वाले मंगल और शुक्र (Mars and Venus) के गोचर से मेष राशि, कर्क राशि और वृश्चिक राशि के जातकों को अनुकूल परिणाम प्राप्त होगा और वे अपने जीवन में बेफिक्र रहेंगे। खुशियां उनके जीवन में दस्तक देंगी।

ये लोग रहें सावधान
वहीं, दूसरी तरफ वृषभ राशि, सिंह राशि, मीन राशि के जातकों को इन दोनों गोचरों से सावधान रहने की सलाह दी गई है। इस दौरान आपको कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। हालांकि अंत में सब सही हो जाएगा, लेकिन कुछ समय के लिए विशेष तौर पर सावधानी बरतने की आवश्यकता होगी।

नोट- उपरोक्त दी गई जानकारी व सूचना सामान्य उद्देश्य के लिए दी गई है। हम इसकी सत्यता की जांच का दावा नही करतें हैं यह जानकारी विभिन्न माध्यमों जैसे ज्योतिषियों, धर्मग्रंथों, पंचाग आदि से ली गई है । इस उपयोग करने वाले की स्वयं की जिम्मेंदारी होगी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *