Breaking News

10 लाख रुपए में बिक रहे 5 और 10 के ऐसे सिक्के, यदि आपके पास हैं तो यहां बेच बन सकते हैं लखपति

आज के डिजिटल जमाने में कैश का लेन देन बहुत कम हो गया है। खासकर सिक्कों के इस्तेमाल में भारी कमी देखी गई है। आजकल सभी ऑनलाइन ट्रांजेक्शन पर जोर दे रहे हैं। खासकर इस कोरोना महामारी के दौर में लोग दूसरों के पैसों को छूने से परहेज ही कर रहे हैं। इस बीच मार्केट में एक खास तरह के सिक्के की डिमांड बढ़ गई है। यदि आपके पास यह सिक्का उपलब्ध हो तो आप उसे बेच लखपति भी बन सकते हैं।

दरअसल हम यहां जिस सिक्के की बात कर रहे हैं वह 5 और 10 के सिक्के हैं। अब वैसे तो 5 और 10 के सिक्के हर किसी के पास आसानी से मिल जाते हैं, लेकिन यहां 5 और 10 के सिक्के के विशेष सिक्कों की बात हो रही है। इन सिक्कों के ऊपर माता वैष्णो देवी की तस्वीर की तस्वीर बनी हुई है।

माता वैष्णो देवी की तस्वीर वाले 5 और 10 के ये सिक्के साल 2002 में जारी किए गए थे। हालांकि बाद में इस तरह के सिक्के मार्केट में आना बंद हो गए। यह सिक्के बहुत कम ही देखने को मिलते हैं। इसकी वजह ये है कि मां वैष्णो देवी की तस्वीर छपी होने के कारण लोग इसे अपने लिए भाग्यशाली मानते हैं। ऐसे में जब उनके पास यह सिक्का आता है तो वह इसे खर्च नहीं करते बल्कि ‘लक’ के रूप में अपने पास ही रख लेते हैं।

अब चुकी नवरात्रि भी आने वाली है, ऐसे में मां वैष्णो देवी की फोटो वाले ये 5 और 10 के सिक्के ऑनलाइन सेल में डिमांड में बने हुए हैं। लोग इन्हें ऑनलाइन 10 लाख रुपए तक में बेच रहे हैं। यदि आपके पास इस तरह का कोई सिक्का है तो आप भी इसे इंडियामार्ट की साइट पर बेच सकते हैं। इस वेबसाइट पर कई लोग इस तरह के सिक्कों को सर्च कर रहे हैं।

कोरोना महामारी के इस दौर में वैसे ही लोगों के पास पैसे नहीं है। उन्हें तंगी का सामना करना पड़ रहा है। इसलिए यदि आपके पास ये सिक्का हो तो इसे बेच आप झटपट लखपति बन सकते हैं।

बताते चलें कि दुनिया में कई ऐसे लोग हैं जिन्हें पुरानी और अनोखी चीजों का शौक होता है। ऐसे में वे इन चीजों को ऊंची कीमतों पर भी खरीद लेते हैं। इंडियामार्ट भी एक ऐसी ही वेबसाइट है जहां लोग इस तरह की पुरानी चीजों को खोजने आते हैं।

तो देर किस बात की है, फटाफट अपने गुल्लक को खंगालिए और देखिए उसमें मां वैष्णव देवी की छवि वाला 5 और 10 का सिक्का है या नहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *