Breaking News

होली पर इन आसान तरीकों से बनाएं हर्बल रंग , स्किन से जुड़ी परेशानियों की करें छुट्टी

होली का त्यौहार आते ही सबके चेहरे पर खुशी आ जाती है. सभी लोग एक दिन रंगों में एक दूसरे को सराबोर कर देते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि बाजार में मिलने वाला कलर हमारी त्वचा और शरीर के लिए कितना हानिकारक होता है. होली में केमिकल वाले कलर यूज किए जाते हैं उनसे एलर्जी होती है, आंखों में जलन होने लगती है और पेट से जुड़ी बहुत सारी समस्याएं उत्पन्न होने लगती है. इस साल अगर आपको इन सारी समस्याओं के बिना होली सेलिब्रेट करनी है, तो आप बाजार के रंगों की जगह घर पर ही रंग बनाने की शुरुआत कर दें,  जिन्हें  हम हर्बल कलर्स भी कहते है. आइए जानते हैं आखिर कैसे बनाते हैं घर पर हर्बल कलर्स..

कैसे बनाएं हरा रंग

 

हरा रंग बनाने के लिए नीम या फिर मेहंदी की पत्तियों को पीसकर उसका एक पेस्ट तैयार कर लें और इस पेस्ट में पानी मिलाकर होली खेले. इस तरीके के कलर खेलने के बहुत फायदे हैं. इससे आपको नीम में मौजूद एंटीबैक्टीरियल और एंटीएलर्जीकल गुड प्राप्त होंगे, जिससे आपके स्किन को लाभ होगा.

कैसे बनाएं लाल कलर

लाल कलर बनाने के लिए चुकंदर का प्रयोग करना चाहिए. चुकंदर ना सिर्फ खाने और सलाद में अच्छा होता है बल्कि चेहरे के कलर को जगमगाने के लिए भी प्रयोग होता है. हर्बल लाल रंग बनाने के लिए आप चुकंदर का प्रयोग कर सकते हैं. होली खेलने के लिए चुकंदर को पीसकर पानी में उबाल लें और लाल रंग बना ले.

अगर आप चाहते हैं कि आप का बनाया हुआ रंग देर तक रहे तो उसके लिए आप कुछ घरेलू उपाय कर सकते हैं.

कच्ची हल्दी और चुकंदर के बनाए पेस्ट

कच्ची हल्दी और चुकंदर के मिश्रण को आप बनाए रंग में  उपयोग कर सकते हैं. यह रंग लोगों की त्वचा पर देर तक टिका रहेगा. इतना ही नहीं पालक और मेथी को पीसकर उसका गीला पेस्ट तैयार करके उसमें थोड़ा सा पानी डाल दे. घर में यह भी बहुत अच्छा हर्बल रंग तैयार होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *