Breaking News

‘हिंदू हूं, हिंदुत्व नहीं करूंगा तो क्या करूंगा, केजरीवाल ने दोहराई यह मांग

आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party-AAP) के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Chief Minister Arvind Kejriwal) ने ‘हिंदुत्व’ के मुद्दे (Issues of ‘Hindutva’) पर अपना पक्ष साफ किया। उन्होंने कहा कि वह केवल हिंदुत्व के नाम पर ही वोट नहीं मांगते हैं। साथ ही उन्होंने नोटों पर हिंदू देवी-देवताओं की तस्वीरों की मांग पर भी चर्चा की। दिल्ली में MCD और गुजरात विधानसभा चुनाव (gujarat assembly election) में आप खासी व्यस्त नजर आ रही है।

एक इंटरव्यू के दौरान केजरीवाल ने उन आरोपों का जवाब दिया, जहां कहा जा रहा था कि वह गुजरात में प्रचार के दौरान ‘भाजपा के हिंदुत्व का रास्ता ले रहे हैं।’ इसपर उन्होंने कहा, ‘मैं हिंदू हूं, अगर हिंदुत्व नहीं करूंगा तो और क्या करूंगा।’ इस दौरान उन्होंने नोटों पर देवी लक्ष्मी और भगवान गणेश की तस्वीरों की मांग को भी दोहराया और आरोप लगाए कि केवल भाजपा ने इसका विरोध किया था।

नोटों पर देवी-देवता की फोटो पर भाजपा को घेरा
उन्होंने कहा, ‘…जैसे ही मैंने यह कहा भाजपा ने हमें भला बुरा कहना शुरू कर दिया। केवल भाजपा ने इसका विरोध किया, किसी और ने नहीं। मुझे समझ नहीं आता कि परेशानी क्या है। इंडोनेशिया मुस्लिम बहुल देश हैं, लेकिन करंसी पर गणेश की तस्वीर लगा रहे हैं, वहां कोई विरोध नहीं कर रहा।’

उन्होंने कहा, ‘मैंने गुजरात के लोगों से आप को वोट देने की अपील की है, कांग्रेस या आप को नहीं। मैं केवल हिंदुत्व के नाम पर ही वोट नहीं मांगता। लोगों को आप से बहुत उम्मीदें हैं और मैं एक देशभक्त नागरिक हूं, जो जब स्कूल और अस्पताल की बात आती है तो राष्ट्रीय स्तर पर बदलाव करने में सक्षम है। मैं देश के हर हिस्से में मोहल्ला क्लीनिक मुहैया करा सकता हूं।’

नेताओं पर मामलों की बात
केजरीवाल ने आरोप लगाए कि उनके अधिकांश विधायकों को मामले में झूठा फंसाया गया है। उन्होंने कहा कि वह नकारात्मक राजनीति नहीं चाहते, चाहते हैं कि जनता का काम हो। आप नेता ने कहा, ‘मैं पेपर्स पढ़े हैं और सत्येंद्र जैन के खिलाफ मामला फर्जी है। उन्होंने मेरे अधिकांश विधायकों को मामलों में फंसाया है। उन्होंने आरोप लगाए हैं कि मनीष सिसोदिया शराब नीति मामले में सरगना हैं, लेकिन चार्जशीट में उनका नाम कहीं नहीं है। ईडी की कार्यवाही जटिल होने के चलते जैन को जमानत नहीं मिल सकी है। यह राजनीति का गंदा चेहरा है। लोग काम चाहते हैं, नकारात्मक राजनीति नहीं। हम दिल्ली और गुजरात दोनों जीतेंगे।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *