Breaking News

‘हमें अपने बिस्कुट नहीं बेचती Parle-G कंपनी’, मझोले कारोबारियों के संगठन ‘Udaan’ ने की CCI में कंप्लेंट

छोटे और मध्यम कारोबारियों के बी2बी व्यापार मंच ‘उड़ान’ (Udaan) ने पारले-जी (Parle-G) बिस्कुट बनाने वाली पारले प्रोडक्ट्स (Parle Products) कंपनी के खिलाफ भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (CCI) में एक शिकायत दर्ज कराई है. संगठन का आरोप है कि कंपनी अपनी मजबूत स्थिति का गलत फायदा उठा रही है.

उड़ान ने की कंपनी की शिकायत

‘उड़ान’ (Udaan) ने शिकायत में कहा कि पारले प्रोडक्ट्स (Parle Products) उसे पारले-जी बिस्कुट जैसे उत्पादों की सीधी आपूर्ति करने से इनकार कर रही है. जिसके चलते उसे बाहर से कंपनी के प्रोडक्ट्स खरीदकर डिलीवर करने पड़ रहे हैं. इससे मझोले कारोबारियों को नुकसान उठाना पड़ रहा है.

‘अपनी स्थिति का उठा रही गलत फायदा’

सूत्रों के मुताबिक ‘उड़ान’ (Udaan) ने कंप्लेंट की है कि पारले-जी (Parle-G) जैसे ग्लूकोज बिस्कुट की अच्छी खपत है. कंपनी अपनी इस स्थिति का गलत फायदा उठाते हुए बिना किसी उचित तर्क के उसे पारले-जी बिस्कुट की आपूर्ति से इनकार करती है.

‘खुले बाजार से खरीदने पड़ते हैं बिस्कुट’

संगठन ने कहा कि कंपनी की इस पॉलिसी की वजह से उसे खुले बाजार से बिस्कुट खरीदने पड़ते हैं. जिसके कारण कंपनी से सीधे बिस्कुट खरीदने वाले कारोबारियों की तुलना में उन्हें वे महंगे पड़ते हैं. इसका असर उनके बिजनेस पर पड़ता है और उन्हें नुकसान उठाना पड़ता है.

कंपनी ने किया नोटिस से इनकार

इस मामले में उड़ान के प्रवक्ता ने कोई टिप्पणी करने से इनकार किया है. वहीं पारले प्रोडक्ट्स के सीनियर कैटिगरी इंचार्ज मयंक शाह ने कहा कि कंपनी को इस मामले में CCI से अब तक कोई नोटिस नहीं मिला है. उन्होंने कहा, ‘हमें न तो कोई नोटिस मिला है और न ही इस संबंध में कोई जानकारी है.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *