Breaking News

सोनाली फोगाट केस: वकील ने CJI को पत्र लिखकर सीबीआई जांच की मांग

टिक टॉक स्टार और बीजेपी नेत्री सोनाली फोगाट मौत मामले में रोज चौंकाने वाली जानकारियां सामने आ रही हैं. घटना के 10 दिन बाद परिवार वालों ने एक बार फिर बड़ी आशंका जताई है. सोनाली के भाई रिंकू ने खुलकर राजनीतिक साजिश की तरफ इशारा किया है तो वकील ने भी सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश (CJI) यूयू ललित को संबोधित एक पत्र लिखा है. इसमें उन्होंने इस केस की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) को ट्रांसफर करने की मांग की है. बता दें कि दो दिन पहले हरियाणा सरकार के गृह मंत्री अनिल विज की तरफ से भी कहा गया था कि उन्होंने गोवा सरकार को पत्र लिखा है और सीबीआई जांच की सिफारिश करने का आग्रह किया है. विज ने कहा था कि परिवार ने सीएम से मुलाकात की है और सीबीआई जांच की मांग रखी है.

हमने गोवा के मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर सीबीआई जांच करवाने का आग्रह किया है. न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक, गुरुवार को सोनाली फोगाट के परिवार की तरफ से अधिवक्ता विनीत जिंदल ने CJI को एक पत्र लिखा है. वकील ने कहा कि सोनाली फोगट की 23 अगस्त को संदिग्ध परिस्थितियों में गोवा में मौत हो गई थी. इस घटना में सोनाली के निजी सहायक समेत दो लोगों को गोवा पुलिस ने हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है. हम इस पत्र याचिका के जरिए कोर्ट से प्रार्थना करते हैं कि वह गोवा सरकार को पुलिस से मामले की जांच सीबीआई को ट्रांसफर करने का निर्देश दे, ताकि ये पता लगाया जा सके कि सोनाली फोगाट की हत्या के पीछे कोई बड़ी साजिश है या नहीं.

वकील ने पत्र में कहा है कि इस हत्या की जांच सिर्फ गोवा पुलिस तक ही सीमित नहीं है, क्योंकि ये एक बड़ी साजिश हो सकती है और अन्य राज्यों में इसकी जांच की जरूरत है. इस मामले को किसी ऐसी एजेंसी के हाथ सौंपना चाहिए, जो बिना किसी बाधा या कानूनी जटिलताओं के जांच कर सके. इसके लिए सीबीआई सबसे उपयुक्त एजेंसी है. सीबीआई को देश के किसी भी राज्य में बिना किसी रुकावट के केस की जांच करने की पूरी छूट है. पत्र में कहा गया है कि सोनाली फोगाट की मौत को पहले हार्टअटैक बताया गया, लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला कि शरीर में कई चोटें आई हैं. पुलिस अधिकारियों ने इस बात की भी पुष्टि की कि हत्या से पहले नशा दिया गया था, लेकिन महत्वपूर्ण मुद्दे अभी भी स्पष्ट नहीं हैं.

गोवा पुलिस को अभी सोनाली फोगट की हत्या के पीछे के मकसद का पता नहीं चल पाया है और उसकी हत्या में अन्य कौन शामिल हैं. उन्होंने कहा कि नोट करने वाली बात ये है कि फोगाट अपने गृह राज्य हरियाणा में भाजपा की नेता थीं और उन्होंने भाजपा के टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़ा था. वकील ने कहा कि सोनाली जनता के बीच एक लोकप्रिय सितारा भी थीं. उनकी राजनीतिक गतिविधियों को भी इंकार नहीं किया जा सकता है. बड़े स्तर पर जांच होने के बाद ही पता लगाया जा सकता है कि हत्या के पीछे कोई बड़ी साजिश तो नहीं है. सोनाली फोगाट के भाई रिंकू ढाका ने कहा है कि गोवा पुलिस यहां सिर्फ वित्तीय जांच करने आई थी और आरोप लगाया कि जांच में समय बिताने की औपचारिकता की जा रही है.

उन्होंने कहा कि हत्या का मुख्य मकसद अभी तक सामने नहीं आया है. गोवा पुलिस ने कुछ नहीं कहा है. रिंकू ढाका ने सोनाली फोगाट की मौत के पीछे राजनीतिक साजिश की ओर इशारा किया और कहा कि ये समय बिताना औपचारिकता जैसा लगता है. यह पूछे जाने पर कि क्या इसके पीछे कोई राजनीतिक साजिश हो सकती है, उन्होंने कहा- ‘हां, इसकी संभावना है.’ गुरुवार को उत्तरी गोवा के एसपी शोबित सक्सेना ने बताया कि गोवा पुलिस की टीम हरियाणा में मामले की जांच कर रही है. वहां हमने महत्वपूर्ण तथ्य और सबूत एकत्र किए हैं. उन्होंने कहा कि जांच सही दिशा में चल रही है. हमने एक विशेष टीम बनाई थी, जो हरियाणा में जांच करने गई थी. ये टीम हरियाणा में जांच कर रही है जो अब तक उपयोगी रही है. कुछ महत्वपूर्ण तथ्य सामने आए हैं और महत्वपूर्ण सबूत एकत्र किए गए हैं. एसपी सक्सेना ने आगे कहा कि उन्होंने कर्लीज रेस्तरां में ड्रग्स वाली एक बोतल भी बरामद की है. उन्होंने कहा- हमने कर्लीज रेस्तरां अंजुना में एक बोतल बरामद की है जिसमें कुछ दवाएं थीं. डीएम द्वारा उचित कार्रवाई शुरू की गई है. हम सभी एंगल्स से साजिशों का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *