Breaking News

सुकेश ने केजरीवाल और सिसोदिया लगाए गंभीर आरोप, कहा- स्कूलों में टैबलेट सप्लाई के लिए मांगी थी घूस

महाठग सुकेश चंद्रशेखर (Sukesh Chandrasekhar) ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) पर एक और चिट्ठी बम फोड़ा है। अपने वकील अनंत मलिक के माध्यम से सुकेश ने केजरीवाल और सिसोदिया पर आरोप लगाया है कि उन्होंने दिल्ली के मॉडल स्कूलों (Delhi model schools) में टैबलेट सप्लाई (tablet supply) के लिए घूस (bribe) मांगी थी। सुकेश ने इस मामले को वर्ष 2016 का बताया है।

सुकेश ने चिट्ठी में लिखा है कि साल 2016 में दिल्ली के मॉडल स्कूलों में टैबलेट सप्लाई करने के लिए उसने एक कंपनी के बारे में दिल्ली के मंत्री सत्येंद्र जैन को बताया था। सौदे को लेकर उस कंपनी और जैन तथा मनीष सिसोदिया के बीच कई बार वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए बात हुई। सुकेश ने कहा कि इन वार्ताओं में वह भी शामिल था। हालांकि बाद में सौदा नहीं हो सका।

सुकेश ने आरोप लगाया कि साल 2016 के बीच में कैलाश गहलोत के फार्म पर एक बैठक कराई गई थी। इसमें मैं, जैन और सिसोदिया के साथ ही टैबलेट सप्लाई करने वाली कंपनी के प्रतिनिधि शामिल थे। तब सौदा तय हो गया और कहा गया कि मनीष सिसोदिया के रिश्तेदार पंकज के नाम पर एक फर्जी कंपनी बनाई जाएगी और घूस की रकम उस कंपनी को लोन के रूप में ट्रांसफर की जाएगी। सुकेश ने आरोप लगाया कि सत्येंद्र जैन की चिंता इस सौदे में केवल अपने फायदे को लेकर थी न कि उत्पाद की क्वालिटी को लेकर।

जेल में बंद अपराधी सुकेश चंद्रशेखर इससे पहले भी कई चिट्ठी बम आप नेताओं पर दाग चुका है। एक ऐसे ही बम में सुकेश ने मुखमंत्री अरविंद केजरीवाल और सत्येंद्र जैन को पॉलीग्राफ टेस्ट करवाने की चुनौती दी है। उसका कहना है कि वह अपना टेस्ट करवाने के लिए तैयार है पर जैन और केजरीवाल का भी टेस्ट हो।

सुकेश ने इस टेस्ट के लाइव प्रसारण की मांग की है, ताकि सच देश के सामने आ सके। वहीं, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी सुकेश पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि सुकेश चंद्रशेखर को भाजपा स्टार प्रचारक व राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया जाए।

टैबलेट खरीद में भी आप सरकार ने किया भ्रष्टाचार : मीनाक्षी
केंद्रीय राज्य मंत्री मीनाक्षी लेखी ने सुकेश चंद्रशेखर पत्र के आधार पर दिल्ली सरकार पर निशाना साधा है। कहा कि सुकेश के पत्र में एक और खुलासा हुआ है कि सरकार ने बच्चों को टैबलेट देने के लिए चीन की एक कंपनी से डील की थी। जिसमें 27 फीसदी कमीशन तय किया गया था लेकिन उसे बढ़ाकर 40 फीसदी कर दिया गया।

इस कमीशन के पैसों से थाईलैंड में जमीन खरीदने की भी बात कही गई। बावजूद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जेल में बंद मंत्री सत्येंद्र जैन को पद से नहीं हटा रहे है। लेखी ने आरोप लगाया कि दिल्ली सरकार के भ्रष्टाचार के मामलों को पूरी दिल्ली देख रही है। इस दौरान प्रदेश प्रवक्ता यासिर जिलानी व प्रदेश मीडिया रिलेशन विभाग के सह प्रमुख विक्रम मित्तल मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *