Breaking News

सीएम योगी ने गरीब कल्याण मेले का किया शुभारंभ, कहा- हर पीड़ित, गरीब के साथ खड़ी है सरकार

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि अपने लोक कल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से सरकार हर पीड़ित, हर गरीब के साथ खड़ी है. समाज के आखिरी पायदान के लोगों की बेहतरी के लिए केंद्र और प्रदेश की सरकार पूरी प्रतिबद्धता से कार्य कर रही है.

प्रदेश के सभी 826 ब्लॉकों में आज एक साथ आयोजित हो रहा गरीब कल्याण मेला भी इसी प्रतिबद्धता का उदाहरण है. योगी एकात्म मानववाद और अंत्योदय के प्रणेता पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर शनिवार को गोरखपुर जिले के नवसृजित भरोहिया ब्लॉक से प्रदेश के सभी ब्लॉकों के लिए गरीब कल्याण मेला का शुभारंभ करते हुए ये बाते कहीं.

‘हर पीड़ित, गरीब के साथ खड़ी है सरकार’

गुरु गोरक्षनाथ विद्यापीठ के परिसर में आयोजित समारोह में मुख्यमंत्री ने सरकार की लोक कल्याणकारी योजनाओं से देश, प्रदेश और समाज में आ रही खुशहाली का विस्तार से उल्लेख किया. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2019 में लाई गई जन आरोग्य के तहत उत्तर प्रदेश में 6 करोड़ पात्र लोग आयुष्मान गोल्डन कार्ड से पांच लाख रुपये तक मुफ्त चिकित्सा सेवा के लाभ पा चुके हैं. यह कार्डधारक सरकारी या इम्पैनल्ड अस्पतालों में नि:शुल्क इलाज करा सकते हैं. जिन्हें इस योजना का लाभ नहीं मिल सका है, उन्हें मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना में कवर किया जा रहा है. हमारा संकल्प है कि कोई भी गरीब उपचार के अभाव में दर-दर भटकने को मजबूर नहीं होना चाहिए.

गरीब कल्याण मेले का शुभारंभ

सीएम ने बताया कि सरकार के मिशन गरीब कल्याण के तहत गोरखपुर में 29,460 बालिकाओं की सुमंगला योजना से जोड़ा गया है. यहां के भरोहिया ब्लॉक में 1,061 बालिकाओं को इसका लाभ मिला है. इस योजना में सरकार बालिका के जन्म से लेकर उसकी स्नातक तक की पढ़ाई के लिए चरणवार 15 हजार रुपये दिए जाते हैं. गोरखपुर में 68,341 निराश्रित महिलाओं को निराश्रित महिला पेंशन का लाभ मिला है. भरोहिया ब्लॉक में ये संख्या 1,661 है. मुख्यमंत्री ने कहा कि कोई भी निराश्रित महिला खुद को असहाय न समझे. इसके लिए कैम्प लगातार उनके फॉर्म भरवाने के निर्देश दिए गए हैं. इसी तरह भरोहिया के 606 समेत गोरखपुर में 26,525 दिव्यांगजनों को पेंशन योजना से लाभान्वित किया जा रहा है. दिव्यांगजनों को पेंशन के साथ कृत्रिम अंग और सहायक उपकरण भी प्रदान किए जाते हैं.

गरीब कल्याण मेले का शुभारंभ

मुख्यमंत्री ने बताया कि उज्जवला योजना जिसके पहले चरण का शुभारंभ पीएम मोदी ने बलिया से किया था. इसके तहत गोरखपुर में 2,44,519 महिलाओं को निःशुल्क रसोई गैस कनेक्शन दिए गए. उज्ज्वला 2.0 के तहत 19,000 नए पात्र चयनित किए गए हैं. सीएम ने महिलाओं और बच्चों के लिए पुष्टाहार योजना की भी जानकारी दी. बताया कि आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से गोरखपुर जिले में 6 महीने से 3 वर्ष तक के 1,33,926 बच्चों और 3 से 6 साल तक के 74,626 बच्चों को पुष्टाहार दिया गया है. 54,417 गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाएं भी पुष्टाहार योजना से लाभान्वित हुई हैं. भरोहिया ब्लॉक में 6 महीने से तीन वर्ष के 4,278 बच्चों, 3 से 6 वर्ष के 2,208 बच्चों और 1,656 धात्री-गर्भवती महिलाओं को इस योजना से फायदा पहुंचा है.

भरोहिया में आयोजित गरीब कल्याण मेला में एक महिला ने मुख्यमंत्री से मदद की फरियाद की. उसने सीएम योगी को बताया कि उसका पति कैंसर से पीड़ित है. जिसका वो उपचार कराना चाहती है. सीएम योगी ने उसे आश्वस्त किया कि उसके पति के इलाज में कोई दिक्कत नहीं होने दी जाएगी. मुख्यमंत्री ने तत्काल अधिकारियों को निर्देशित किया कि पीड़ित का आयुष्मान गोल्डन कार्ड बनाकर इलाज कराया जाए. अगर उसमें चयनित न हो तो मुख्यमंत्री आरोग्य योजना का लाभ दिलाया जाए. अगर फिर भी कोई दिक्कत आए तो मरीज का इस्टीमेट बनवाकर मुख्यमंत्री राहत कोष भेजा जाए. उन्होंने कहा कि कैंसर जैसी बीमारी में सामान्य व्यक्ति के लिए भारी आथिर्क संकट भी होता है. उन्होंने कहा कि उपचार में कोई संकट नहीं आने दिया जाएगा, भरपूर मदद की जाएगी.

मुख्यमंत्री ने अन्य कई कल्याणकारी योजनाओं की उपलब्धियों का भी उल्लेख किया. उन्होंने बताया कि गोराखपुर में 5,19,129 किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि, भरोहिया के 4,201 समेत गोरखपुर में 1,49,140 पात्रों को वृद्धावस्था पेंशन का लाभ दिया जा चुका है. भरोहिया के 751 समेत जिले में 37,451 प्रधानमंत्री आवास योजना के मकानों के निर्माण पूर्ण किया गया है. साथ ही जिले में पीएम आवास योजना में 9,228 नए लाभार्थी चयनित किए गए हैं. लोगों को सीएम आवास योजना के अंतर्गत भी मकान दिए जा रहे हैं. स्वच्छ भारत मिशन के तहत भरोहिया ब्लॉक में 6,790 समेत गोरखपुर में 2,24,258 व्यक्तिगत शौचालय बनवाए गए हैं.

राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत जिले में 14,442 समूहों का गठन किया गया है. जिसमें से 451 समूह भरोहिया में हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि आप देख सकते हैं कि कैसे इन योजनाओं से गरीब के जीवन में परिवर्तन लाया जा रहा है. योगी ने कहा कि संकटकाल में ही कसौटी की पहचान होती है. कोरोना काल के संकट में पीएम मोदी के नेतृत्व में पूरी दुनिया ने भारत का शानदार प्रबंधन देखा. कोरोना के नियंत्रण में यूपी की सबसे अच्छी भूमिका रही. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में कोरोना के दोनों चरणों में मुफ्त राशन दिया गया. उत्तर प्रदेश के 15 करोड़ लोगों समेत देश के 80 करोड़ लोगों के लिए मुफ्त राशन की व्यवस्था सुनिश्चित की गई. सीएम ने कहा कि संवेदनशील और लोक कल्याण को समर्पित सरकार ही ऐसा कर सकती है. सीएम योगी ने कहा कि दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सार्वजनिक जीवन के कार्यकाल का 20 वर्ष 7 अक्टूबर को पूरा हो रहा है. इस उपलक्ष्य में उनके योगदान को अविस्मरणीय बनाने के लिए भाजपा पूरे देश में 17 सितंबर से 6 अक्टूबर तक 20 दिवसीय सेवा समर्पण विशेष अभियान चला रही है.

मुख्यमंत्री ने आयोजन स्थल पर बच्चों का अन्नप्राशन भी कराया. इस दौरान उन्होंने उन्हें खूब प्यार दुलार भी दिया. इसका उल्लेख सीएम योगी ने मंच से भी किया. बताया कि अन्य जगहों पर मास्क के चलते बच्चे डर जाते हैं. लेकिन यहां बच्चे उन्हें देखकर हंस रहे थे. मुख्यमंत्री ने पुष्टाहार योजना के दो लाभार्थियों को मंच पर सम्मानित करने के दौरान उनके साथ आए बच्चों से बात की और उन्हें भी प्यार और आशीर्वाद दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *