Breaking News

शादीशुदा महिलाए गलती से भीं किसी के साथ शेयर ना करे अपनी ये चीजें

हमारा हिन्दू समाज विविध प्रकार की परम्पराओ से भरा हुआ है। सब समाज की अलग अलग प्रकार के रीती रिवाज़ है और सभी लोग इनका पालन करते है । आज हम आप को कुछ ऐसी बातें बताने जा रहे है जिनसे सुहागिनों को परहेज करने के लिए कहा जाता है। ऐसी ही कुछ बातें हैं सुहागिनों के श्रृंगार से जुड़ी हुईं, जिस चीजो को किसी और के साथ बांटना सुहागिनों  के लिए बुरा माना जाता है और ये एक भाव है जो दंपति के जीवन में खुद से आता है लेकिन इस प्‍यार पर ग्रहण तब लग जाता है जब पत्‍नी अपने साज श्रृंगार को किसी दुसरे से बांटती है जो की शास्त्रों में गलत माना गया है।

1.  स्त्रियों का सिन्दूर जिसे एक सुहागन के कर्तव्य और प्यार की सबसे बड़ी निशानी मानी जाती है | सिदूर सुहागन स्त्री के जीवन में बहुत महत्व रखता है क्योंकि यही उसके सुहागन होने की पहचान होती है।कहा जाता है की स्त्री को अपना सिन्दूर कभी किसी से साझा नहीं करना चाहिए इससे पति का प्यार कम होता है।

2. आँखों में लगाने वाले काजल को भी किसी के साथ साझा नहीं करना चाहिए क्योंकि कई बार किसी की आँखों में इन्फेक्शन होता है और ऐसे में यदि कोई व्यक्ति किसी दूसरे की काजल की डिब्बी से काजल लगाता है, तो उसे भी ये इन्फेक्शन हो सकता है।

3. शास्त्रों के अनुसार यह भी कहा जाता है की महिलाओं को कभी भी आपने माथे की बिंदी किसी और के साथ साझा नहीं करना चाहिए हालाँकि आप बिंदी को पत्ते से निकाल कर दे सकती है यदि किसी जरूरत हो तब।

4. सुहागन स्त्री को कभी भी आपने हाथ में पहनी हुई चुडिया भी कभी किसी को नहीं देनी चाहिए. ऐसे में अगर किसी को आपकी चूड़ियां पसंद आ भी जाएँ तो उसे दूसरी खरीद कर दे दे. मगर हाथ से निकाल कर कभी किसी को न दे।

5. गौरतलब है कि अपनी शादी के मौके पर लड़की जो कपडे पहनती है या साड़ी पहनती है और चुनरी लेती है उसे एक साल तक संभाल कर स्वच्छ रखना चाहिए, यानि वो कही से फटनी या खराब नहीं होनी चाहिए और ना ही किसी को साझा करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *