Breaking News

लखनऊ में बीजेपी नेता के चाचा की हत्या कर गड्ढ़े में फेंका शव, कातिलों की तलाश में जुटी पुलिस

राजधानी लखनऊ (Lucknow) में बीजेपी नेता और अवध क्षेत्र के क्षेत्रीय मंत्री विकास सिंह के चाचा मुकेश सिंह का शुक्रवार को अपहरण के बाद उनकी हत्या कर दी है. बीजेपी नेता के चाचा की हत्या के बाद पुलिस सक्रिय हुई. जानकारी के मुताबिक हत्यारों ने हत्या कर शव को आउटर रिंग रोड के किनारे एक गड्ढे में फेंक दिया. मुकेश गुरुवार शाम को घर से निकला थे और वह घर नहीं लौटे. इसके बाद उसके परिजनों ने मोहनलालगंज कोतवाली में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई और परिजनों ने आरोप लगाया है कि फिरौती के लिए उसकी हत्या की गई है.

पुलिस के मुताबिक गोपालखेड़ा निवासी मुकेश सिंह बीजेपी के वरिष्ठ नेता विनोद सिंह के भाई थे. मुकेश पहले कंप्यूटर सॉफ्टवेयर का काम करते थे. लेकिन न्यूरो की समस्या के चलते करीब दो साल से वह कुछ नहीं कर रहे हैं और पीजीआई में उनका इलाज चल रहा था. परिजनों ने बताया कि मुकेश गुरुवार शाम करीब चार बजे बेटे अमन को लेने के लिए घर से गोपालखेड़ा पुल पर गए थे और काफी देर तक वह घर नहीं लौटे. वहीं जब घरवालों ने उसे फोन किया तो कोई जवाब नहीं मिला. इसके बाद परिजनों ने मोहनलालगंज पुलिस को सूचना दी और किसी अनहोनी की आशंका जताई. वहीं पुलिस ने मुकेश के भाई सुबोध की शिकायत पर देर रात एक व्यक्ति की गुमशुदगी दर्ज कर जांच शुरू कर दी.

परिजनों ने परिचित पर जताया शक

परिजनों का कहना है कि हत्या के पीछे मुकेश के एक पूर्व परिचित की भूमिका पर आशंका जताई है. पुलिस का कहना है कि बदमाशों ने शव को हरिकांगढ़ी में ला कॉलेज के पीछे से गुजर रहे आउटर रिंग रोड के किनारे गड्ढे में फेंक दिया. जाहिर है कि कातिल इलाके से परिचित थे. आशंका है कि हत्यारे हरिकंशगढ़ी के रास्ते आए और हत्या करने के बाद शव को फेंककर वहां से चले गए.

पुलिस को थोड़ी दूरी पर मिला मोबाइल

वहीं मृतक का मोबाइल पुलिस ने थोड़ी दूरी पर एक खेत से मिला और पुलिस कॉल डिटेल्स के आधार पर बदमाशों का पता लगाने का प्रयास कर रही है. पुलिस लेनदेन को लेकर हुए विवाद में कुछ लोगों पर हत्या का शक जता रही है. जांच में यह बात सामने आई है कि गुरुवार को शाम साढ़े छह बजे मुकेश का पहला फोन स्विच ऑफ था और दूसरा रात करीब 11 बजे. इंस्पेक्टर अखिलेश कुमार मिश्रा ने बताया कि परिजनों की तहरीर के आधार पर प्राथमिकी दर्ज कर जांच की जाएगी. वहीं परिजनों का कहना है कि किसी ने मुकेश को मिलने के लिए बुलाया और उसे बंधक बना लिया और उसकी हत्या कर दी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *