Breaking News

रातों-रात बनीं स्टार सिंगर, एक फैसला बना अनुराधा पौडवाल के करियर की बर्बादी

80 के दशक की बेहतरीन प्लैबक सिंगर अनुराधा पौडवाल (Anuradha Paudwal) 27 अक्टूबर को अपना 68वां जन्मदिन मना रही हैं. एक जमाने में अनुराधा पौडवाल रातों-रात स्टार सिंगर बन गई थीं और लता मंगेशकर, आशा भोसले और अल्का याग्निक जैसी गायिकाओं को कड़ी टक्कर देती थीं. उस वक्त अनुराधा के पास काम की कोई कमी नहीं थी और हर कोई उनकी सुरीली आवाज का कायल था. मगर उनके जीवन में एक ऐसा मोड़ आया कि खुद का फैसला ही करियर की बर्बादी बन गया.

सफलता की सीढ़ियां
अनुराधा पौडवाल की सिंगिंग करियर की शुरुआत 1973 में अमिताभ बच्चन और जया भादुड़ी स्टारर फिल्म ‘अभिमान’ से हुई थी. लेकिन उन्हें पहला बड़ा ब्रेक सुभाष घई की फिल्म ‘कालीचरन’ से मिला था. इस फिल्म के रिलीज होते ही अनुराधा एक चमकता सितारा बन गई औरanuradha paudwal 2फिर उन्होंने भी कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा. उस वक्त अनुराधा के पास प्रोजेक्ट्स की लाइन लग गई थी. उनकी बेहतरीन गायिका के कारण ही अनुराधा को लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल, कल्याणजी-आनंदजी और जयदेव जैसे संगीतकारों के साथ काम करने का मौका मिला.

लता और आशा के साथ विवाद
इंडस्ट्री में अनुराधा पौडवाल का नाम तेजी से फैलने लगा था. लोग उनकी आवाज के कायल हो चुके थे. उस समय कई खबरें ऐसी भी सामने आई जिनमें कहा गया कि लता मंगेशकर और आशा भोंसले के साथ उनका विवाद है. हर कोई अनुराधा के साथ काम करने की इच्छा रखता था औरanuradha paudwal gulshan kumarखुद अनुराधा ने अपने करियर को नया मोड़ देने के लिए उस वक्त की सबसे बड़ी म्यूजिक कंपनी टी-सीरीज यानि गुलशन कुमार के साथ हाथ मिला लिया. एक वक्त पर आकर गुलशन कुमार की पसंदीदा गायिका भी अनुराधा ही हन गई और अनुराधा को हर जगह गुलशन कुमार का सपोर्ट मिलने लगा. शायद इसी कारण दोनों की अफेयर की खबरों ने भी जोर पकड़ा.

गुलशन कुमार का वादा
अनुराधा अपने करियर में जितनी तेजी से आगे बढ़ रही थीं वह वहां से पीछे नहीं देखना चाहती थीं. हालांकि वह अपने हर गाने के लिए खूब मेहनत भी करती थी और एक वक्त ऐसा आया जब लगने लगा कि लता मंगेशकर का दौर खत्म हो चुका है. कंपोजर ओपी नायर ने भी इस बात को स्वीकारते हुए कह दिया था किanuradha paudwal 3लता को अनुराधा ने रिप्लेस कर दिया है. इस पर गुलशन कुमार ने अनुराधा से वादा किया था कि वह उन्हें दूसरी लता मंगेशकर बनाएंगे. गुलशन के इस वादे के बाद से अनुराधा ने अपने काम पर ज्यादा ध्यान लगाना शुरू कर दिया था. लेकिन उसी बीच उन्होंने लिया बड़ा चौंकाने वाला फैसला

अनुराधा का एक फैसला और करियर की बर्बादी
दरअसल, जब अनुराधा अपने सिंगिग करियर में काफी तेजी से आगे बढ़ रही थीं तभी उन्होंने जिंदगी का बड़ा फैसला लिया. अनुराधा ने ऐलान किया कि वह अब सिर्फ टी-सीरीज के लिए ही गानें गाएंगी.gulshan kumar anuradha paudwalअनुराधा के इस फैसले को सुनकर हर कोई चकित रह गया और एक बार फिर गुलशन कुमार के साथ उनके अफेयर की खबरें उड़ने लगी. मगर अनुराधा का यही फैसला उनके गले की फांस बन जाएगा ये वह खुद नहीं जानती थीं.

गुलशन की मौत के बाद छोड़ी सिंगिग
सिर्फ टी-सीरीज के लिए गाने का फैसला लेने के बाद बाकी सिंगर्स को मौका मिलने लगा और उस बीच अनुराधा ने भजन व आरती भी गानी शुरू कर दी. इस तरह उनका करियर डूबने लगा.anuradha paudwalकई सालों तक वह किसी दूसरी कंपनी के लिए गाने नहीं गा पाई और जब गुलशन कुमार की मौत हुई तब उन्होंने पूरी तरह सिंगिंग छोड़ दी. बता दें, अनुराधा ने गुलशन कुमार की कंपनी के लिए 10 साल से ज्यादा समय के लिए काम किया.

पति के मौत के बाद मिला था सहारा
अनुराधा पौडवाल की शादी एसडी बर्मन के असिस्टेंट और म्यूजिक कंपोजर अरुण पौडवाल से हुई थी. सबकुछ अच्छा चल रहा था कि अचानक उनके पति ने दुनिया को अलविदा कह दिया.anuradha paudwal 1जिससे अनुराधा पूरी तरह टूट गई. हालांकि उन्होंने अपने दो बच्चे आदित्य और कविता की परवरिश अच्छे से की. मगर पति के जाने से वह अकेली हो गई थीं और तभी उन्हें गुलशन कुमार का सहारा मिला.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *